भ्रष्टाचार पर बड़ी कार्रवाई- 1 लाख रुपये की रिश्वत लेते ग्राम विकास अधिकारी गिरफ्तार

रिश्वत

जयपुर, डेस्क रिपोर्ट। राजस्थान (Rajasthan) के चुरु जिले (Churu district) में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (Anti Corruption Bureau) ने बड़ी कार्रवाई की है। एसीबी टीम ने यहां आज गुरुवार को ग्राम पंचायत गोपालपुरा के ग्राम विकास अधिकारी (Village Development Officer) वीरेंद्र शर्मा को 1 लाख रूपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। रिश्वत (Bribe) के बाद टीम ने अधिकारी पर भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

यह भी पढ़े.. 12572 ग्राम पंचायतों ने स्वयं लगाया जनता कर्फ्यू, सीएम शिवराज सिंह बोले- अन्य भी लागू करें

मिली जानकारी के अनुसार,   भागीरथ जाट निवासी वार्ड नंबर 6 ने में डूंगर बालाजी के पास एक बड़े साइज का सांङो में खरीद भूखंड है, जिसकी रजिस्ट्री हो चुकी है।  इस भूखंड की जब चारदीवारी की जाने लगी तो ग्राम विकास अधिकारी वीरेंद्र शर्मा ने उसे धमकी दी और 2 लाख रुपए न देने पर पट्टा निरस्त करवाने की धमकी दी थी। इस शिकायत जाट ने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो से की थी, इसके बाद ब्यूरों ने शिकायत का एक और तीन अप्रैल को 2 बार सत्यापन करवाया, जिसमें दोनों बार ही ग्राम विकास अधिकारी द्वारा चारदीवारी के निर्माण कार्य में अड़ंगा नहीं लगाने और अन्य किसी प्रकार की कोई बाधा नहीं डालने के बदले में 2 लाख रुपए मांगने की पुष्टि हो गई।

यह भी पढ़े.. 20 के नोट पर पुष्पा का दीपू के नाम प्यार भरा संदेश वायरल, यूजर्स बोले-26 से पहले ले आओ

इसके बाद ब्यूरो टीम ने आज दोपहर फरियाद को किश्त के 1 लाख रुपए लेकर छापर में नगरपालिका के सामने आने के लिए कहा। जैसे ही ग्राम विकास अधिकारी ने पैसों के लिए हाथ बढ़ाया पीछे से एसीबी तत्काल सक्रिय हो गई और पुलिस उप अधीक्षक शब्बीर खान की टीम ने उसे रंगेहाथों रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर दिया। आरोपी के आवास व अन्य ठिकानों की तलाशी जारी है। एसीबी मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत मामला दर्ज कर आगे जांच करेगी।