नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। गर्भवती महिलाएं भी अब कोरोना वैक्सीन लगवा सकती हैं। इसे लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप ऑन इम्यूनाइजेशन (NTAGI ) की सिफारिशों को मंजूर कर लिया है। स्वास्थ्य मंत्रालय की मंजूरी के बाद अब गर्भवती महिलाएं CcWin ऐप पर वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकती हैं या सीधे कोविड वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर टीका लगवा सकती हैं।

स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव समेत 3 अधिकारियों की बढ़ी मुश्किलें, ये है पूरा मामला

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि महिलाएं गर्भावस्था की किसी भी स्टेज पर वैक्सीन लगवा सकती हैं। इसके लिए ऑपरेशनल गाइडलाइन भी जारी की गई है जो सभी राज्यों को भेजी गई है। बता दें कि इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) की एक स्टडी में ये बात सामने आई थी कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान गर्भवती महिलाओं और हाल ही में बच्चों को जन्म दे चुकी महिलाओं के स्वास्थ्य पर विपरीत असर पड़ा है। उनमें गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ रहा था और भ्रूण पर भी इसका असर होने की आशंका थी। स्टडी में कोविड संक्रमित गर्भवती महिलाओं में प्रीमेच्योर डिलीवरी का खतरा भी सामने आया था।

इस स्टडी में पहली और दूसरी लहर की तुलना की गई और देखा गया कि दोनों लहर के दौरान गर्भवती महिलाओं और हाल में में बच्चे को जन्म देने वाली महिलाओं की स्थिति क्या रही। स्टडी के मुताबिक दूसरी लहर ने ऐसी महिलाओं को अधिक प्रभावित किया। इस बार 28.7 फीसदी केस सामने आए और मृत्यु दर 5.7 फीसदी रही। वहीं पहली लहर में ये संक्रमण का आंकड़ा 14.2 फीसदी तक था और मृत्यु दर केवल 0.7 फीसदी तक थी। इस स्टडी के बाद ये बात साफ हुई है कि गर्भवती महिलाओं के लिए वैक्सीनेशन बेहद जरूरी है।