पैगंबर मोहम्मद टिप्पणी मामला: इन देशों के विरोध के बाद अब ओवैसी ने पीएम मोदी से की यह मांग, जाने

बीते दिन भाजपा प्रवक्ता नुपूर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी की, जिसे लेकर बीजेपी ने प्रवक्ता को पार्टी से बाहर करने का निर्णय लिया।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। Prophet Mohammad comment:- बीते दिन भाजपा प्रवक्ता नुपूर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी की, जिसे लेकर बीजेपी ने प्रवक्ता को पार्टी से बाहर करने का निर्णय लिया। बावजूद इसके यह मामला बढ़ते जा रहा है, जिसे लेकर कई देश भी विरोध कर रहें है, हालांकि भारत ने ओआईसी के बयान को खारिज कर दिया है। इस मामले पर एआईएमआईएस के चीफ असदुद्दीन ने भारत सरकार से नुपूर शर्मा की गिरफ़्तारी की मांग की है। मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा की पीएम मोदी देश के मुसलमानों की बात नहीं सुनते। इसके अलावा उन्होंने ने भाजपा पर मुसलमानों को अपमानित करने का आरोप भी लगाया है। उन्होंने यह भी कहा की “पीएम मोदी ने 10 दिन पहले ही नुपूर शर्मा को पार्टी से बाहर क्यू नहीं किया?” उनका यह भी कहना है की जब कोई पीएम मोदी के खिलाफ होता है तो तुरंत एक्शन होता है, लेकिन मुसलमानों की बेइज्ज़ती पर देरी क्यों?”

यह भी पढ़े… आपकी उत्सुकता बढ़ाने भारत में आ रहा है Realme 9i 5G, लॉन्चिंग के लिए है तैयार, जाने

इन देशों ने जताया विरोध 

भाजपा प्रवक्ता द्वारा पैगंबर पर टिप्पणी करने के बाद कई खाड़ी देशों ने विरोध प्रदर्शन किया है। इस लिस्ट में कुवैत, कतर और ईरान भी शामिल है। कुछ देशों ने तो भारत से माफी की मांग भी की है। 57 मुस्लिम देशों के संगठन ओआईसी ने भी सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर किया और भारत में मुसलमानों के खिलाफ बढ़ रहे हिंसा का विरोध भी किया। हालांकि भारतीय विदेश मंत्रालय ने ओआईसी के बयान को साफ तौर पर खारिज कर दिया है और कहा की भारत सरकार सभी धर्मों का सम्मान करती है। तो वहीं सऊदी और बहरीन ने भाजपा द्वारा नुपूर शर्मा को पार्टी से निकालने के कदम का स्वागत किया।