वरिष्ठ बीजेपी नेता और पूर्व सांसद का कोरोना से निधन, पार्टी में शोक लहर

आज बुधवार को पूर्व सांसद का कोविड प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया जाएगा।

पूर्व सांसद

कानपुर, डेस्क रिपोर्ट। नेताओं पर कोरोना (Corona Virus) का कहर जारी है। वरिष्ठ भाजपा और पूर्व सासंद श्याम बिहारी मिश्रा (Shyam Bihari Mishra) का मंगलवार देर शाम कोरोना के कारण निधन हो गया। बीते दिनों उन्हें हार्ट अटैक आया था और  रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई थी, जिसके बाद सोमवार को उन्हे एक प्राइवेट हॉस्पिटल (Private Hospital) में भर्ती कराया गया था, लेकिन उनकी हालात में कोई सुधार नहीं हुआ और मंगलवार शाम को उनका निधन हो गया। आज बुधवार को पूर्व सांसद का कोविड प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया जाएगा।

यह भी पढ़े.. NMMSS 2021: राष्ट्रीय मींस कम मेरिट छात्रवृत्ति परीक्षा स्थगित, अब 15 मई तक होंगे आवेदन

पूर्व सांसद के निधन की खबर लगते ही पार्टी में शोक की लहर दौड़ गई है।  मंगलवार की सुबह ही श्याम बिहारी मिश्रा के भतीजे राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त हनुमान मिश्रा लखनऊ के PGI में निधन हो गया था। हनुमान मिश्रा (Hanuman Mishra) कोरोना के साथ ही अन्य बिमारियों से भी ग्रसित थे। वरिष्ठ बीजेपी नेता और पूर्व सांसद श्याम बिहारी मिश्रा देश के बड़े व्यापारी नेताओं में सुमार थे। उन्हे व्यापारियों का पितामाह भी कहा जाता था। मिश्रा ने ताउम्र गरीबों और व्यापारियों के हक की लड़ाई लड़ी है। अपने सरल स्वाभाव की वजह से उन्होने देशभर में अपनी छाप छोड़ी थी।

यह भी पढ़े.. शिवराज सिंह चौहान बोले- जिलों के पॉजिटिविटी रेट के आधार पर होगी कलेक्टरों की रैंकिंग

पूर्व सांसद मिश्रा ने भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) की टिकट से पहली बार सन् 1991 में बिल्हौर लोकसभा सीट (Bilhaur Lok Sabha seat) से सांसदी का चुनाव जीता था। इसके बाद लगातार 4 बार 1996, 1998 और 1999 में चुनाव जीता था। राजनीति से दूरी बनाने के बाद वह भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के राष्टीय अध्यक्ष थे। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष के पद पर भी रहे। वर्तमान में प्रदेश में चल रहे तमाम व्यापार मंडल, उनके व्यापार मंडल से टूट कर अलग हुए थे।