सोनिया गांधी की मांग- वैक्सीनेशन के लिए 45 से आयु घटाकर 25 साल करें सरकार

सोनिया गांधी

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश (India) में तेजी से कोरोना (Coronavirus) के बढ़ते आंकड़ों और वैक्सीनेशन (Vaccination) के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने बड़ी मांग उठाई है। सोनिया गांधी ने वैक्सीन के लिए 45 साल से आयु सीमा को घटाकर 25 साल किए जाने की मांग की है। वही उन्होंने अस्थमा, मधुमेह और कुछ अन्य बीमारियों से पीड़ित युवाओं को प्राथमिकता के आधार पर टीका लगाए जाने की भी मांग की है।अभी टीकाकरण के लिए न्यूनतम आयुसीमा 45 साल निर्धारित की गई है।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश के इन जिलों में बढ़ाया गया 26 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू, सख्ती की तैयारी

दरअसल, आज शनिवार को कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की बैठक बुलाई गई थी, जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कोरोना महामारी की मौजूदा स्थिति को लेकर हमला बोलते हुए कहा कि केंद्र सरकार (Central Government) की ओर से कांग्रेस शासित राज्यों को पूरी मदद नहीं मिल पा रही है। मोदी सरकार (Modi Government) को टीकाकरण के लिए अपनी प्राथमिकता पर पुनर्विचार करना चाहिए और आयुसीमा को घटाकर 25 साल करना चाहिए। इसके अलावा अस्थमा, मधुमेह, किडनी और लीवर संबंधी बीमारियों से पीड़ित सभी युवाओं (Youth) को टीका लगाया जाना चाहिए।

यह भी पढ़े..कोरोना के बढ़ते आंकड़ों के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान चौहान का बड़ा फैसला

वही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को लिखे पत्र का उल्लेख किया और आरोप लगाया कि कई जगहों पर टीकों, ऑक्सीजन और वेंटिलेंटर की कमी हो रही है, लेकिन सरकार चुप्पी साधे है। वैक्सीन के निर्यात पर सवाल उठाते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि क्या टीकों के निर्यात को रोककर अपने नागरिकों की रक्षा को प्राथमिकता नहीं दी जानी चाहिए।सरकार को टीकाकरण के लिए अपनी प्राथमिकता पर पुनर्विचार करना चाहिए