किसानों को सरकार का बड़ा तोहफा, माफ होगा 2 लाख तक का कर्जा, कैबिनेट ने दी मंजूरी, जानें किसे मिलेगा लाभ?

राज्य मंत्रिमंडल की बैठक के बाद सीएम रेड्डी ने कहा कि 12 दिसंबर, 2018 से नौ दिसंबर, 2023 के बीच जिन किसानों ने दो लाख रुपये तक का कर्ज लिया है, उन्हें एकमुश्त माफ कर दिया जाएगा। पिछले सप्ताह ही झरखंड में भी सरकार ने किसानों का 2 लाख रुपये तक का बिल माफ करने का ऐलान किया था।

Pooja Khodani
Published on -
farmers

Telangana Farmers Waived Off: झारखंड के बाद तेलंगाना के किसानों के लिए खुशखबरी है। राज्य की रेवंत रेड्डी सरकार ने किसानों को एक बड़ा तोहफा देते हुए दो लाख रुपये की कर्ज माफी की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ए रेवंत रेड्डी ने कहा है कि ये फैसला जल्द लागू किया जाएगा, इससे 2018 से 2023 के बीच जिन किसानों ने कर्ज लिया है, उन्हें लाभ मिलेगा।

सीएम ने की कर्जमाफी की घोषणा

तेलंगाना के मुख्यमंत्री ए रेवंत रेड्डी ने कैबिनेट बैठक में किसानों के दो लाख रुपये की कर्ज माफी की घोषणा की है। इसके तहत 12 दिसंबर 2018 से 9 दिसंबर, 2023 के बीच जिन किसानों ने दो लाख रुपये तक का कर्ज लिया है, उन्हें एकमुश्त माफ कर दिया जाएगा। पात्रता शर्तों सहित ऋण माफी का विवरण जल्द ही एक सरकारी आदेश (जीओ) में घोषित किया जाएगा। कर्ज माफी से राज्य के खजाने पर लगभग 31,000 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा।हमारी सरकार दो लाख रुपये के कृषि ऋण माफी के अपने चुनावी वादे को पूरा कर रही है।

झारखंड सरकार ने भी किया है कर्ज माफी का ऐलान

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह ही झारखंड की चंपई सोरेन सरकार ने किसानों का 2 लाख रुपये तक का बिल माफ करने का ऐलान किया था। राज्य के मुख्यमंत्री चंपई सोरेन ने कहा था कि उनकी गठबंधन सरकार किसानों के दो लाख रुपये तक के कृषि ऋण माफ करेगी। इसके तहत 31 मार्च 2020 तक किसानों के 50 हजार से लेकर 2 लाख तक के लोन को वन टाइम सेंटलमेंट के माध्यम से माफ किया जाएगा। इसके साथ ही फ्री बिजली कोटा को बढ़ाकर 200 यूनिट करेगी। इसके लिए उन्होंने कई बैंक से प्रस्ताव पेश करने के लिए कहा था।


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News