ऑनर किलिंग : नवविवाहित जोड़े को उतारा मौत के घाट, तीन दिन पहले ही हुई थी शादी

एक नवविवाहित जोड़े को इसलिए मौत के घाट उतार दिया क्योंकि दोनों अलग-अलग जात से थे (intercaste marriage) और दोनो ने लव मैरिज की थी। इस घिनौने कृत्य को लड़की पक्ष के लोगों ने अंजाम दिया। लड़की अनुसूचित जाति (SC) से थी।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। बेशक हम कितने ही शिक्षित क्यों ना हो जाए या कहें कि समाज में जात-पात के भेदभाव को मिटाने की कितनी ही कोशिश क्यों न कर ले, लेकिन कहीं- ना – कहीं ऐसा मामला सामने आ ही जाता है, जहां इस सभ्य समाज की खामियां फिर से उजागर हो जाती है।

ऐसा ही एक चौंकाने मामला तमिलनाडु से सामने आया है, जहां एक नवविवाहित जोड़े को इसलिए मौत के घाट उतार दिया क्योंकि दोनों अलग-अलग जात से थे (intercaste marriage) और दोनो ने लव मैरिज की थी। इस घिनौने कृत्य को लड़की पक्ष के लोगों ने अंजाम दिया। लड़की अनुसूचित जाति (SC) से थी।

ये भी पढ़े … कर्मचारियों-अधिकारियों के लिए बड़ी खबर, केन्द्रीय मंत्री ने दी प्रस्ताव को मंजूरी, ऐसे मिलेगा लाभ

जानकारी के मुताबिक, सोमवार शाम को तंजावुर जिले के कुंभकोणम के पास थुलुक्कावेली गांव में लड़की के परिवार द्वारा ‘ऑनर किलिंग’ के मामले में एक नवविवाहित जोड़े की हत्या कर दी गई। पुलिस ने बताया कि एस. सरन्या (24), जो चेन्नई के एक निजी अस्पताल में नर्स के रूप में काम कर रही है, कुछ दिन पहले वी.मोहन (31) के साथ चुपके से भाग गई थी। तीन पहले दोनों ने शादी की और इसकी सूचना अपने परिजनों को दी। जिसके बाद लड़की के घरवालों ने नवविवाहित जोड़े को खाने पर बुलाया।

शाम को जब दंपति गांव पहुंचे तो सरन्या के बड़े भाई एस.शक्तिवेल (31) और उनके परिजन रंजीत (28) ने उन पर हंसिये से हमला कर दिया। सरन्या और मोहन दोनों की मौके पर ही मौत हो गई।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने मामले को संज्ञान में लेकर जांच शुरू कर दी है।शवों को पोस्टमार्टम के लिए कुंभकोणम के सरकारी अस्पताल ले जाया गया। जबकि चोलापुरम पुलिस ने मामला दर्ज कर शक्तिवेल और रंजीत की तलाश शुरू कर दी है।