Rajyog : सावन में बनने वाला है यह खास राजयोग, 7 अगस्त तक इन राशियों पर होगी धन की वर्षा, पदोन्नति-सफलता-नौकरी के योग

Pooja Khodani
Updated on -
rajyog

Budh Shukra Yuti/Kendra Trikon Rajyog 2023 :वैदिक ज्योतिष के अनुसार हर ग्रह निश्चित समय पर एक राशि से निकलकर दूसरी राशि में प्रवेश करता है। इससे ग्रहों की युति बनती हैं और कई तरह के शुभ-अशुभ योग बनते हैं। हाल ही में शुक्र गोचर करके सिंह राशि में प्रवेश किया है और अब 25 जुलाई को बुध भी सिंह राशि में प्रवेश करने जा रहे है,वही मंगल पहले से ही सिंह में विराजमान है, ऐसे में बुध और शुक्र मिलकर लक्ष्मी नारायण राजयोग बनाने जा रहे है, जिसका 3 राशियों को बहुत लाभ मिलेगा। इससे पहले मंगल शुक्र की युति से यह राजयोग बना था।

कुंडली में ऐसे बनता है राजयोग

ज्योतिष में यह योग बेहद शुभ माना जाता है।  खास बात ये है कि कई सालों बाद एक राशि में शुक्र मंगल और बुध के होने के चलते केंद्र त्रिकोण राजयोग बनने वाला है। ज्योतिष के अनुसार, जब कुंडली में जब 3 केंद्र भाव जैसे 3, 4, 7 10 त्रिकोण भाव जैसे 1, 5, 9 आपस में युति निर्मित करते हैं अथवा दृष्टि संबंध और राशि परिवर्तन करते हैं, तब केंद्र त्रिकोण राजयोग का निर्माण होता है। केंद्र त्रिकोण राजयोग में यदि नवम भाव उच्च का हो तो जातकों के लिए शुभ लक्ष्मी योग का निर्माण होता है। इससे धन निवेश, स्वास्थ्य लाभ, नौकरी प्रतिष्ठा का लाभ मिलता है।

बुध शुक्र की युति, अगस्त तक बरसेगी लक्ष्मी की कृपा

ज्योतिष में लक्ष्मी नारायण योग का विशेष महत्व बताया गया है। जब किसी भी राशि में बुध और शुक्र ग्रह दोनों एक साथ होते हैं, तो लक्ष्मी नारायण योग का निर्माण होता है। इस योग से लक्ष्मी जी की कृपा बरसती है और जीवन में सुख-सुविधा की कोई कमी नहीं रहती है। 7 जुलाई को शुक्र ग्रह सिंह राशि में गोचर कर चुके हैं जो इस राशि में 7 अगस्त तक रहेंगे। वहीं दूसरी तरफ बुध ग्रह 25 जुलाई को सुबह सिंह राशि में आ जाएंगे। इस तरह से 7 अगस्त तक सिंह राशि में बुध और शुक्र ग्रह की युति रहेगी जिससे लक्ष्मी नारायण योग बनेगा। इस शुभ योग के निर्माण से कई राशि के जातकों को फायदा होने के शुभ संकेत हैं।

7 अगस्त तक इन 3 राशियों की बल्ले बल्ले

मिथुन राशि – बुध-शुक्र की युति से बना लक्ष्मी नारायण योग मिथुन राशि के जातकों के लिए बहुत ही शुभ फलदायी सिद्ध हो सकता है। इस राशि में बुध तीसरे भाव में रहेंगे और पांचवे भाव में रहेंगे।  धन लाभ के योग बनेंगे।  आपको कार्यों में अच्छी सफलता हासिल हो सकती है। अचानक धन लाभ के साथ हर क्षेत्र में सफलता हासिल हो सकती है।नौकरीपेशा लोगों को पदोन्नति मिल सकती है। कार्यस्थल में आपके काम की प्रशंसा हो सकती है। अचानक से आपको सरप्राइज मिल सकता है।मां लक्ष्मी की विशेष कृपा रहेगी।आपके काम की प्रशंसा होगी। व्यापार में कार्यरत लोगों को मुनाफा होने के संकेत हैं।

कन्या राशि –  कन्या राशि के जातकों के लिए लक्ष्मी नारायण योग बहुत ही शुभ साबित होने वाला योग होगा। आमदनी में अच्छा इजाफा होने के संकेत है।  राशि में बुध बारहवें भाव में रहेंगे। लक्ष्मी नारायण योग बनने से विदेशी संपर्कों में बढ़ोतरी होगी। ऐसे में विदेश बिजनेस में लाभ मिल सकता है। भाग्य का पूरा साथ मिलने वाला है। परिवार के साथ अच्छा समय बीत सकता है। वैवाहिक जीवन में खुशियां ही खुशियां आ सकती है। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों को भी सफलता हासिल हो सकती है।छात्रों को शुभ समाचार सुनने को मिल सकता है। किसी परीक्षा का परिणाम सफलता ला सकता है। जिन लोगों का कोई कानूनी मसला चल रहा है तो उनका समाधान निकल सकता है।

तुला राशि – लक्ष्मी नारायण योग तुला राशि के जातकों के लिए बहुत ही शुभ रहने वाला हो सकता है। भाग्य का अच्छा साथ मिलने से आपके जीवन में धन की वर्षा के योग बन रहे हैं। लंबे समय से अटके हुए काम पूरे हो सकते हैं। इसके साथ ही धन की कमी से छुटकारा मिल सकता है। निवेश करने में लाभ मिलेगा।नई नौकरी की तलाश कर रहे लोगों को भी सफलता हासिल हो सकती है। इसके साथ ही बिजनेस संबंधी यात्राएं हो सकती है। इनमें लाभ मिलने के पूरे आसार है।कार्यक्षेत्र में आपके अच्छा मुनाफा देखने को मिल सकता है। मां लक्ष्मी की विशेष कृपा होने से कहीं से धन की प्राप्ति हो सकती है जिससे आपकी आर्थिक स्थिति में इजाफा देखने को मिल सकता है। अच्छे अवसरों के प्राप्ति से आपका मन प्रसन्न होगा।

(Disclaimer : यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है, MP BREAKING NEWS किसी भी तरह की मान्यता-जानकारी की पुष्टि नहीं करता है। इन पर अमल लाने से पहले अपने ज्योतिषाचार्य या पंडित से संपर्क करें)

 


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News