महंगी हुई हज यात्रा, कोरोना इफेक्ट ने इच्छुक यात्रियों को परेशानी में डाला

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। काेरोना इफेक्ट (corona) के चलते हज यात्रा (Haj pilgrimage) भी प्रभवित हुई है। इस कारण अब अगले साल (2021) होने वाली हज यात्रा पिछले साल के मुकाबले 1.22 लाख रुपये तक महंगी हो जाएगी। अचानक ही इस यात्रा में करीब पचास फीसदी तक के उछाल से हज पर जाने को इच्छुक लोग परेशान हैं। इसपर उलेमा व कई मजहबी तंजीमों ने नाराजगी का इजहार भी किया है।

बता दें कि पिछले साल हज यात्रा पर भारत सरकार ने सब्सिडी खत्म कर दी थी जिस कारण पहले ही हज यात्रा का खर्च बढ़ गया था। इससे पहले तक सरकार प्रति यात्री लगभग 37 हजार रूपये देती थी लेकिन सब्सिडी खत्म करने के बाद ये राशि यात्री से ही ली जाने लगी।इस साल आवेदन और चयन के बाद भी कोरोना क्राइसिस के कारण हज यात्रा स्थगित कर दी गई थी। अब अगले साल होने वाली यात्रा को लेकर सऊदी अरब सरकार और हज कमेटी आफ इंडिया की ओर से गाइडलाइन जारी की गई है। इसमें कोरोना इफेक्ट साफ नजर आ रहा है और अब प्रत्येक हज यात्री पर लगभग 1.22 लाख रुपये बढ़ना तय माना जा रहा है। हज कमेटी आफ इंडिया की ओर से उनकी वेबसाइट पर हज खर्च की अनुमानित लागत 3.70 लाख से 5.27 लाख रुपये के बीच बताई गई है। आवेदन की अंतिम तारीख 10 दिसंबर है। इसी के साथ कोरोना के कारण हज 2021 के लिए कई और नियम भी बनाए गए हैं जिनमें आयु सीमा, सऊदी में रूकने की समय सीमा आदि भी शामिल है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here