खेल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व भारतीय क्रिकेटर और 1983 विश्व कप विजेता यशपाल शर्मा (yashpal sharma)  का मंगलवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। यशपाल 1983 में भारत की विश्व कप जीत के नायकों में से एक थे।उन्होंने अपने करियर में भारत के लिए 37 टेस्ट और 42 वनडे मैच खेले हैं। टेस्ट क्रिकेट में 2 शतक के साथ उन्होंने 1606 रन बनाए हैं। जबकि वनडे क्रिकेट में 883 रन बनाए हैं। यशपाल शर्मा को 13 जुलाई को तड़के दिल का दौरा पड़ा। जिसके बाद उनका निधन हो गया है।

क्या Dilip के जाने का आघात नहीं सह पाएं Yashpal Sharma! 1983 वर्ल्ड कप विजेता क्रिकेटर का निधन

Read More: PM Modi ने युवा मंत्रियों पर जताया भरोसा, Scindia सहित इनको मिली एक और महत्वपूर्ण जिम्मेदारी

बता दे कि टीम इंडिया के पूर्व टेस्ट क्रिकेटर यशपाल शर्मा ने यह खुलासा किया था कि क्रिकेटर के रूप में उनका करियर दिलीप कुमार (dilip kumar) ने बनाया है। बहुत कम लोगों को ज्ञात होगा कि यशपाल शर्मा के क्रिकेट करियर में दिलीप कुमार का बड़ा हाथ है। यह खुलासा खुद यशपाल शर्मा ने एक इंटरव्यू के दौरान किया था। यशपाल ने कहा था कि मेरे जिंदा रहने तक मेरे एक ही फेवरेट एक्टर है और वह दिलीप कुमार रहेंगे।

दरअसल एक रणजी मैच के दौरान दिलीप कुमार ने यशपाल शर्मा को बल्लेबाजी करते हुए देख लिया था तभी उन्होंने कहा था कि तुम अच्छी बल्लेबाजी करते हो मैंने तुम्हारे लिए बीसीसीआई से बात कर ली है। इस तरह यशपाल शर्मा का करियर इंडियन क्रिकेट में एक दिग्गज क्रिकेटर के रूप में स्थापित हुआ था। यशपाल शर्मा दिलीप कुमार को भाई कहकर बुलाते थे। यशपाल शर्मा का कहना था कि अगर क्रिकेट में मेरा कैरियर बनाने वाला कोई शख्स है तो वह युसूफ भाई (Dilip kumar) हैं।

क्या Dilip के जाने का आघात नहीं सह पाएं Yashpal Sharma! 1983 वर्ल्ड कप विजेता क्रिकेटर का निधन

1983 वर्ल्ड कप के पहले मैच में उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ 89 रनों की शानदार पारी खेली थी जिसके बदौलत भारत ने पहले मैच में जीत दर्ज की थी। वर्ल्ड कप मैच के सेमीफाइनल में इन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 61 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली थी।