इंग्लैंड की शानदार जीत, नीदरलैंड को 160 रनों से हराया

Amit Sengar
Updated on -
eng won

Afghanistan Vs Australia World Cup 2023 : विश्व कप का 40वां मुकाबला इंग्लैंड और नीदरलैंड के बीच पुणे के MCA स्टेडियम में खेला गया। इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए 50 ओवर में नौ विकेट खोकर 339 रन बनाए। जवाब में उतरी नीदरलैंड की टीम 37.2 ओवर में 179 रन पर सिमट गई। इस हार के साथ ही वह विश्व कप से बाहर होने वाली चौथी टीम बन गई।

नीदरलैंड के लिए तेजा निदामानुरु ने सबसे ज्यादा नाबाद 41 रन बनाए। कप्तान स्कॉट एडवर्ड्स ने 38 और वेस्ले बर्रेसी ने 37 रन की पारी खेली। साइब्रांड ने 33 और बास डी लीडे ने 10 रन बनाए। इंग्लैंड के लिए मोईन अली और आदिल रशीद ने तीन-तीन विकेट लिए। डेविड विली को दो विकेट मिले।

इंग्लैंड की टीम में सबसे ज्यादा बेन स्टोक्स ने 108 रन बनाए। उन्होंने 84 गेंद की पारी में छह चौके और छह छक्के लगाए। स्टोक्स का विश्व कप इतिहास में यह पहला शतक है। डेविड मलान ने 87 और क्रिस वोक्स ने 51 रन बनाए। जो रूट ने 28, जॉनी बेयरस्टो ने 15 और हैरी ब्रूक ने 11 रन बनाए। डेविड विली छह, जोस बटलर पांच और मोईन अली चार रन ही बना सके। नीदरलैंड के लिए बास डी लीडे ने तीन विकेट लिए।

इंग्लैंड के कप्तान जोस बटलर ने प्लेइंग-11 में दो बदलाव किए हैं। हैरी ब्रूक और गस एटकिंसन की प्लेइंग-11 में वापसी हुई है। लियाम लिविंगस्टोन और मार्क वुड को टीम से बाहर कर दिया गया है। वहीं, नीदरलैंड के कप्तान स्कॉट एडवर्ड्स ने भी प्लेइंग-11 में एक बदलाव किया।

यह है दोनों टीमों की प्लेइंग 11

ऑस्ट्रेलिया: पैट कमिंस (कप्तान), ट्रैविस हेड, डेविड वॉर्नर, मार्नस लाबुशेन, मिचेल मार्श, जोश इंग्लिस (विकेटकीपर), मार्कस स्टोयनिस, ग्लेन मैक्सवेल, एडम जम्पा, मिचेल स्टार्क और जोश हेजलवुड।

अफगानिस्तान : हशमतुल्लाह शहीदी (कप्तान), रहमानुल्लाह गुरबाज, इब्राहिम जादरान, रहमत शाह, मोहम्मद नबी, अजमतुल्लाह ओमरजई, इकराम अलीखिल (विकेटकीपर), राशिद खान, मुजीब उर रहमान, नूर अहमद और नवीन उल हक।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News