दूल्हे का इंतजार करती रही दुल्हन, नही पहुंची बारात, अब लगा रही थाने के चक्कर

बैतूल ।। हेमंत पवार ।।

बेटियों के लिए एक्शन एक्शन एक्शन का फरमान जारी करने वाले प्रदेश के मुखिया शिवराजसिंह चौहाण भले ही पुलिस को ताकीद करने में कोई कसर न छोड़ रहे हों लेकिन लगता है खाकी पर मुख्यमंत्री की नसीहत का भी फर्क नही पड़ रहा है। इसकी बानगी बैतूल में देखने को मिल रही है।जहां एक दुल्हन तीन दिन से थाने और अफसरों के  चक्कर लगा रही है। लेकिन मामला दर्ज होना तो दूर कार्रवाई तक नही हो पा रही है। 

फूट फूट कर बिलख रहे पिता को ढांढस बंधा रही इस दुल्हन की 18 अप्रैल को बैतूल के गांव पोहर में बारात आनी थी लेकिन न तो बारात पहुची और न दूल्हा। परिजन और रिश्तेदार रात तक बारात का इंतजार करते रहे लेकिन कोई नही पहुचा। दुल्हन हाथो में मेहंदी सजाकर शादी के जोड़े में दूल्हे का इन्तेजार करती रही लेकिन खबर आ गयी कि बारात नही आएगी। आरोप है कि दूल्हा भोपाल में फ्लैट खरीदने के लिए एक लाख रुपये और अपनी ड्यूटी पर जाने के लिए मोटरसाइकिल मांग रहा है। 

दरअसल बैतूल के मुलताई इलाके के शंकर बारंगे के बेटे नंदलाल का विवाह पोहर के श्रीराम पठेकर की बेटी से विवाह तय हुआ था। 18 अप्रैल को बारात आनी थी लेकिन नही पहुची। इस बीच शादी के कार्ड बांट दिए गए सारे रिश्तेदार पहुच गए लेकिन दूल्हा नही आया। इस सामाजिक रुसवाई पर अब दुल्हन और पिता मामला दर्ज कराने दो दिन से साईंखेड़ा थाने के चक्कर काट रहे है। हमारी पहल के बाद एडिशनल एसपी ने अब मामला दर्ज करने का निर्देश दिया है ।