प्रदेशाध्यक्ष के सामने ही भिड़े कांग्रेसी..मंच पर नॉनस्टॉप चला हंगामा

बैतूल| जिला कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में मंच पर पूरे समय भगदड़ मची रही । क्षमता से अधिक कार्यकर्ता मंच पर चढ़ गए जिससे मंच टूटने का खतरा बना था। वही कार्यकर्ताओं को संभालने की बात को लेकर कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष समीर खान और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अरुण गोठी आपस में उलझ पड़े यहां तक कि धक्का-मुक्की की नौबत आ गई। दोनों नेताओं के बीच काफी देर तक विवाद होते रहा। इसके बाद पूर्व विधायक सुखदेव पांसे ने माइक संभाला कुल मिलाकर कांग्रेस संस्कृति देखने को मिली। कांग्रेस कार्यकर्ता एक दूसरे की सुनने को तैयार नहीं थे इसी अव्यवस्था के बीच पांडुचेरी के मुख्यमंत्री बी नारायण स्वामी और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ का भाषण हुआ कमलनाथ पूरे भाषण के समय कांग्रेस कार्यकर्ताओं को चुप करने की कोशिश करते रहे। एक बार फिर कांग्रेस में अनुशासन की कमी दिखाई दी और झूमझटकी से वरिष्ठ नेता भी नाराज दिखे| 


गुटबाजी फिर आई खुलकर सामने

कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन में एक बार फिर कांग्रेस की गुटबाजी खुलकर सामने आई है। अलग-अलग गुटबाजी में बटी कांग्रेस के कार्यकर्ता अपने नेताओं के समर्थन में जमकर नारेबाजी करते रहे। अपने नेताओं के समर्थन में अलग-अलग गुटों के कार्यकर्ताओं ने अलग-अलग जुलूस  निकालकर शक्ति प्रदर्शन किया।

कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मैं बैतूल आया मेरा सौभाग्य है। बेतूल मेरे दिल के करीब है। मैं जब परिवहन मंत्री था तब मैंने बैतूल के विकास कार्य के लिए बहुत सहयोग किया। बैतूल से नागपुर तक सड़क का निर्माण हुआ। हमारे सामने अब चुनाव की चुनौती है। शिवराज सरकार ने प्रदेश में कुछ भी काम नहीं किया किसान मजदूर सब परेशान है शिवराज सिर्फ जनता से जुमलेबाजी करते हैं।

पांडुचेरी के मुख्यमंत्री बी नारायण स्वामी अपने उद्बोधन में कहा कि मैं 3 साल तक मध्य प्रदेश का प्रभारी रह चुका हूं प्रदेश में कांग्रेस मजबूत है कांग्रेस कार्यकर्ताओं में ऊर्जा है। जब भी मध्यप्रदेश में कांग्रेस रही उसने कई विकास कार्य किये। कमलनाथ के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद 2019 का चुनाव मध्यप्रदेश में कांग्रेस ही जीतेगी।

"To get the latest news update download tha app"