कश्मीर की बर्फबारी का MP में असर नही, नवबंर के अंत तक कड़ाके की ठंड के आसार

भोपाल।

कश्मीर की बर्फबारी के बाद भी मध्यप्रदेश के तापमान में कोई खास गिरावट नही देखी जा रही है।जिसके चलते प्रदेश में ठंड का आगमन नही हो रहा है। मौसम विभाग की माने तो मध्य भारत में बने प्रति चक्रवात ने बर्फबारी से आ रही ठंडी हवाओं की रफ्तार रोक दी है। हालांकि आने वाले दिनो में कश्मीर की बर्फबारी का असर प्रदेश में देखने को मिल सकता है।मौसम विभाग की माने तो अब बारिश का दौर पूरी तरह से खत्म हो गया है।

मौसम विभाग की माने तो मध्यप्रदेश के कई इलाकों में नवंबर महीने के अंत तक जोरदार ठंड पड़ने की संभावना है। आने वाले दिनों में कश्मीर में हुई बर्फबारी के कारण मध्यप्रदेश के तापमान में भी गिरावट हो सकती है, हालांकि  18 नवंबर तक मध्य प्रदेश का मौसम शुष्क बने रहने के आसार हैं। वहीं, आगामी 48 घंटों के दौरान पूर्वी मध्य प्रदेश में न्यूनतम तापमान में 2 से 3 डिग्री की गिरावट की संभावना है।

मौसम विभाग की माने तो नवंबर महीने में न्यूनतम तापमान 10 से 15 डिग्री के बीच रह सकता है। वहीं, नवंबर महीने के अंत तक मध्यप्रदेश के कई जिलों में पारा रात के समय 10 डिग्री तक भी पहुंच सकता है। मौसम में बदलाव के कारण प्रदेश में कठाडे की ठंड पड़ने के आसार हैं


तीन दिन बाद बदलेगा उत्तरी हवा का रुख

मौसम विशेषज्ञ के मुताबिक जम्मू-कश्मीर और उससे सटे उत्तरी पाकिस्तान पर चक्रवाती परिसंचरण के रूप में पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है। इससे प्रेरित चक्रवाती परिसंचरण कम चिह्नित हो गया है। पूर्वोत्तर अरब सागर और दक्षिण गुजरात तट से सटे चक्रवाती परिसंचरण औसत समुद्र तल से 2.1 किमी तक बना हुआ है। इन परिस्थितियों कारण उत्तर-पश्चिमी मध्यप्रदेश की हवाओं का रुख उत्तर से पश्चिमी उत्तरी होने की संभावना हैं।

"To get the latest news update download the app"