आखिर क्यों आग बबूला हुए नंदू भैया, मंच छोड़कर चले गए...देखिये वीडियो

बुरहानपुर|शेख रईस| शहर के मराठा मंगल कार्यालय में  सरल बिजली बिल व मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम के हितग्राहियों को प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम में उस वक्त हंगामा हो गया जब महापौर अनिल भोंसले ने बिजली कंपनी के अफसरों पर उन्हें मंच से भाषण नहीं देने का आरोप लगाया और अपना विरोध दर्ज कराते हुए बिना माईक के बिजली कंपनी के अफसरों पर गुस्सा हो गए और अफसरों को खरी खोटी सुनाने लगे| इस बीच भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और सांसद नंदकुमार सिंह चौहान भी महापौर की उपेक्षा से आग बबूला हो गए और बिजली अफसरों को फटकार लगते हुए कार्यक्रम का बहिष्कार करते हुए मंच छोड़कर चले गए| 

दरअसल, सरल बिजली बिल व सीएम बकाया बिजली बिल माफी योजना का आज प्रदेश भर में शुभारंभ हुआ है| मराठा मंगल कार्यालय में योजना के हितग्राहियों को प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम

रखा गया था| जिसमे सांसद नंदकुमार सिंह चौहान और महिला बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनीस भी शामिल हुए थे| लेकिन कार्यक्रम में हंगामा हो गया| सांसद और मंत्री की मौजूदगी में महापौर अनिल भोंसले ने बिजली कंपनी के अफसरों द्वारा उन्हें मंच से भाषण नहीं देने का आरोप लगते हुए अपना विरोध दर्ज कराया और बिना माईक के ही बिजली कंपनी के अफसरों पर गुस्सा निकाला और अफसरों को खरी खोटी सुनाने लगे|  उन्होंने कहा कि जानबूझ कर बिजली विभाग द्वारा एक जनप्रतिनिधि का अपमान किया गया है, बिजली विभाग द्वारा  बुलाने पर भी महापौर अनिल भोसले का गुस्सा शांत नही हुआ इसके बाद जब सांसद नंदकुमार सिंह चौहान की भाषण की बारी आई तो उन्होने भी बिजली कंपनी के अफसरों पर नाराजगी जाहिर की और इसे जनता के द्वारा चुने हुए महापौर का अपमान बनाते हुए कार्यक्रम को बिना भाषण दिए छोडकर चले गए | उनके साथ साथ मंत्री अर्चना चिटनीस भी कार्यक्रम को बीच मे ही छोड़ कर चली गई| 

मंत्री चिटनीस ने कहा बिजली कंपनी के अफसरों से गलती हुई है, भविष्य में हिदायत दी जायेगी कि वह महापौर को भी बोलने का मौका दें|  सांसद और महापौर के कार्यक्रम छोड कर जाने के बाद प्रमाणपत्र वितरण कार्यक्रम मे अफरा तफरी मच गई, वहीं अधिकारियों के भी हाथ पैर फूल गए और माफ़ी का दौर भी शुरू हो गया| वहीं हितग्राहियो को भी पांच घंटे तक भूखे प्यासे रहकर कार्यक्रम में परेशानी का सामना करना पड़ा| वहीं बिजली वितरण कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि त्रुटीवश एैसी गलती हुई है, जिसके लिए हमने माफी भी मांग ली है|  हालांकि यह भी चर्चा है कि यह गुटबाजी के कारण हुआ| 


"To get the latest news update download tha app"