राजधानी में कबाड़खाना इलाके में टायर गोडाउन और आधा दर्जन दुकानों में भीषण आग

भोपाल। राजधानी के न्यु कबाडख़ाना इलाके में आज तड़के भीषण आग लग गई। आग की चपेट में आने से एक टायर गोडाउन, ट्रक बॉडी का कारखाना सहित चार अन्य दुकाने जलकर खाक हो गई। फायर कर्मचारियों ने 6 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद में 40 से अधिक दमकलों की मदद से आग पर काबू पाया है। आग में एक करोड़ से अधिक के नुकसान का अनुमान है। आग लगने के सही कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। हालांकि स्थानीय लोगों का कहना है कि आग किसी अज्ञात व्यक्ति ने लगाई है। पुलिस आस पास लगे सीसीटीवी कै मरों को खंगाल रही है। 

हनुमानगंज थाने के एएसाअई राजेंद्र सिंह के अनुसार आग तड़की बरीब पांच बजे लगी है। आग ने सबसे पहले मोहसिन कुरैशी पिता अज़गर कुरैशी निवासी बाफना कॉलोनी के टायर गोडाउन को चपेट में लिया था। मोहसिन के गोडाउन में पुराने टायर भरे हुए थे। बड़ी संख्या में टायर सड़क पर भी रखे थे। वे पुराने टायरों का कारोबार करते हैं। उनकी दुकान से शुरू हुई आग ने पड़ोस के ट्रक बॉडी कारखाने को भी चपेट में ले लिया। उक्त कारखाना जफर भाई का बताया जा रहा है। इसी के साथ आग ने आस पास की तीन से चार छोटी-छोटी दुकानों को भी चपेट में लिया है। आग लगने के सही कारणों का खुलासा नहीं हुआ है। आग लगाए जाने की बात की पुष्टी भी फिलहाल नहीं हुई है। आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है। जानकारी के अनुसार आग पर काबू पाने के लिए भेल, मंत्रालय, पुलिस की दमकलें सहित शहर के सभी फायर स्टेशनो ंसे चालिस से अधिक दमकलें मौके पर पहुंच गई थीं। आग पर काबू पाने में फायर फाइटरों को करीब 6 घंटे का समय लगा। सुबह 11:10 बजे तक आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया गया था।

- स्थानीय लोगों ने की मदद

कबाडऩा खाना में वाटर सप्लाई का काम करने वाले फहीम ने बताया कि आग की सूचना फायर स्टेशन पर देने के बाद साथ ही स्थानीय लोगों ने उन्हे काल किया था। भीषण आग की सूचना मिलते ही वह मौके पर पहुंचे और अपने प्राइवेट टैंकरों को घटना स्थल पर रवाना किया। जिससे कुछ देर आग फेल से थमी रही।