Breaking News
अविश्वास प्रस्ताव के समय लोकसभा में कमलनाथ की गैरमौजूदगी के मायने | VIDEO : ये कैसा स्वच्छ भारत...शर्मसार एमपी | कविता रैना हत्याकांड : हाईकोर्ट ने सरकार को दिया सीबीआई जांच कराने का हक | पूर्व सांसद की पत्नी के बैग से मिले जिंदा कारतूस, मचा हड़कंप | शिवराज जी, मेरे देश द्रोही होने के प्रमाण हो तो मुझे सजा दिलवाएं, नही तो माफी मांगे : दिग्विजय | बड़ी खबर : आज से ट्रांसपोर्टर्स की देशव्यापी हड़ताल, थमे 90 लाख ट्रकों के पहिए | भोपाल के फिल्टर प्लांट से गैस लीक, मची अफरा-तफरी, सांस लेने में लोगों को हो रही दिक्कत | VIDEO: यशोधरा बोलीं..'मेहनत हमारी, वोट हाथी को' | सत्ता मद में चूर भाजपा सिंधिया के खिलाफ कर रही झूठा प्रचार : कांग्रेस विधायक | शिवराज की नजर में ..दिग्विजय 'देशद्रोही' की श्रेणी में |

सीएम के गृह जिले में भीषण जलसंकट, गड्ढे से पानी पीने को मजबूर 35 आदिवासी परिवार

सीहोर

सीहोर जिले के गुराडी गांव के तालाब पठार के 35 परिवार आदिवासियों का निवास करते है, जो गंदा पानी पीने के लिए मजबूर है। ऐसा इसलिए है क्योकी सरकार की तमाम योजना उन तक नही पहुंच पाई है। एक गड्ढा खोद कर उसमे से पानी निकलकर जीवन यापन कर रहे है छोटे छोटे बच्चे भी पानी भर रहे है और उसी खराब पानी का उपयोग कर रहे है ।मुख्यमंत्री शिवराजसिह चौहान के गृह जिले मे पानी को लेकर किस तरह से आदिवासी लोग अपना जीवन यापन कर रहे है । इससे तो उनके 14साल विकास की पोल खुलती हुई दिखाई दे रही है।  मामा की भांजिया गांव से दो किलोमीटर दूर गड्ढे से पानी पीने को मजबूर है। तालाब मे एक गड्डा खोदकर ग्रामीणो ने खुद अपने लिए पानी की व्यवस्था की ।लेकिन प्रशासन और सरकार का कोई ध्यान नही है

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...