रंजिश के चलते हुई थी पुजारी पुरषोत्तम की हत्या

सीहोर।

शहर के भूतेश्वर मंदिर में कार्यरत पुजारी पुरषोत्तम काछी की हत्या कर दी गई थी।इसका खुलासा अगले दिन मंगलवार सुबह हुआ था।इस मामले में पुलिस लगातार संदेहियों से पूछताछ कर रही थी।गुरूवार को पुलिस ने पुजारी की हत्या का खुलासा कर दिया है।

   पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक शहर के भूतेश्वर मंदिर में कार्यरत पुजारी पुरषोत्तम काछी की मंगलवार को मंदिर प्रांगण में बने एक कमरे में लाश मिली थीं ।प्राथमिक जांच में यह साफ हो रहा था कि पुजारी की हत्या की गई है।इस मामले में पुलिस ने जब संदेहियों से पूछताछ की तो जानकारी सामने आई कि पुजारी पुरषोत्तम काछी का शुगर फैक्ट्री चौराहे पर रहने वाले हरिनारायण भार्गव और साल्वेंट कालोनी में रहने वाले संजय से पुरानी रंजिश थी और मंदिर प्रांगण के पास स्थित जमीन को लेकर भी इनका आपस मे विवाद होता था।पुलिस पुछताछ के दौरान आरोपी हरिनारायण और संजय ने बताया कि सोमवार रात को यह दोनों आरोपी भतेश्वर मंदिर पहुचे और मंदिर में सो रहे पुजारी पुरषोत्तम पर रॉड से हमला बोल कर उसे मौत के घाट उतार दिया।पुजारी की हत्या की इस गुथ्थी को सुलझाने के लिए एसपी सिदार्थ बहुगुणा के मार्गदर्शन में सीएसपी आर एस सेंगर के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया था।इस मामले को केवल दो दिनों में सुलझा लिया गया।हत्या की इस मामले को सुलझाने में कोतवाली पुलिस निरीक्षक अरुणा सिंह, उपनिरीक्षक आर के चौधरी और विनीता विश्वकर्मा ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।