दिग्विजय के नाम से बिखरे BJP के पूरे आंकड़े, भोपाल आने से मुकर रहे कैंडिडेट : पीसी शर्मा

2417
pc-sharma-statement-on-digvijay-for-contesting-loksabha-election-bhopal

भोपाल।

कांग्रेस द्वारा भोपाल लोकसभा सीट से पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ नेता दिग्विजय को मैदान में उतारे जाने के बाद राजनैतिक गलियाओं में बयानबाजी का दौर तेजी से चल रहा है। हर तरफ यही चर्चा है कि दिग्विजय को बीजेपी से कौन टक्कर देगा। वही बीजेपी में हड़कंप की स्थिति है, जिसके चलते अभी तक प्रत्याशी तय नही हो पाया है और मंथन जारी है। ऐसे में कमलनाथ सरकार में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा का बड़ा बयान सामने आया है।शर्मा का कहना है दिग्विजय का नाम सामने आने से बीजेपी के आंकड़े बिखर गए है कोई नेता आगे नही आना चाह रहा है।

दरअसल, विधानसभा जीत से आश्वस्त नजर आ रही कांग्रेस की नजर अब प्रदेश की कठिन सीटों पर है। बदलाव की लहर का फायदा उठाकर कांग्रेस लोकसभा में भी ज्यादा से ज्यादा सीटे हासिल करने में जुटी हुई है।इसी के चलते कांग्रेस ने हाईप्रोफाइल सीट भोपाल से दिग्विजय को मैदान में उतारा है।जिसके बाद से ही बीजेपी में भूचाल मच गया है, दिग्विजय के सामने कोई नेता चुनाव लड़ने की हामी नही भर रहा है, वही पार्टी में भी मंथन का दौर तेजी से चल रहा है।इसी माथापच्ची के बीच आज मीडिया से चर्चा के दौरान शर्मा ने दिग्विजय के सामने बीजेपी का चेहरा तय नही होने पर चुटकी लेते हुए कहा की बीजेपी के नेता दिग्विजय से डरे हुए है। जबसे दिग्विजय सिंह का नाम सामने आया है ,बीजेपी के पूरे  आंकड़े बिखर गए है। बड़े से बड़े कैंडिडेट भोपाल आने से मुकर रहे है।  कमलनाथ के मैनेजमेंट से बीजेपी परेशान हो गई।  वही मोदी के आज फिर चौकीदारों के संबोधन पर तंज कसते हुए शर्मा ने कहा कि मोदी चौकीदारी ठीक से नहीं कर रहे है । चौकीदार नहीं, जनता को ठोस प्रधानमंत्री चाहिए।

दिग्विजय के नाम से सदमे में भाजपा -गोविंद सिंह

बीते दिनों इस पर कमलनाथ सरकार में सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह ने भी चुटकी ली थी। मंत्री गोविन्द सिंह ने कहा था कि जब से भोपाल से कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह को प्रत्याशी बनाया है। बीजेपी बेहोशी की हालत में है। सदमे से उबर नही पा रही है कि आखिर अब क्या करे। बैचैनी उजागर कर रही है कि बीजेपी अब यह सीट जीत नही पाएगी। उन्होंने कहा भाजपा में घबराहट है और इसीलिए अलग अलग उम्मीदवारों को आयात कर रही है। 

किले को बचाना बड़ी चुनौती

अभी तक बीजेपी ने 18  सीटों पर उम्मीदवार उतार दिए है, लेकिन भोपाल को  लेकर अब तक सहमति नही बन पाई है।हालांकि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज और उमा भारती के साथ साथ केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के नामों पर विचार किया जा रहा है। लेकिन अंदरखाने की माने तो कोई भी नेता दिग्विजय से सामने आने से पीछा हट रहा है।ऐसे में किले को बचाना भाजपा के लिए चुनौती बन गया है। अगर बीजेपी उमा भारती या फिर शिवराज को मैदान में उतारती है कि मुकाबला बहुत ही रोमांचक होने वाला है। हालांकि उमा भारती चुनाव लड़ने से इंकार  कर चुकी है।फिलहाल इस सीट के प्रत्याशी को लेकर बीजेपी में जबरदस्त मंथन चल रहा है। खबर है कि संघ से भी इस मसले पर चर्चा की जा रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here