बाढ़ से हुआ 9 हज़ार करोड़ का नुकसान, रिलीफ फण्ड के लिए प्रदेश सरकार केंद्र को भेजेगी मेमोरेंडम

Shivraj Singh Chauhan

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। राज्य सरकार (State Government) का आकलन है कि पिछले दिनों अतिवृष्टि के दौरान आई भारी बाढ़ से प्रदेश में करीब 9 हज़ार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। इसमें फसल, मकान, इंफ्रास्ट्रक्चर आदि की छती की राशि शामिल है। राज्य सरकार 25 सितंबर को केंद्र सरकार को बाढ़ से हुए नुकसान की भरपाई करने के लिए मेमोरेंडम सौपेगी। इसमें केंद्र से राहत पैकेज की मांग की जाएगी।

इस बीच अतिवृष्टि से प्रदेश में बाढ़ के कारण हुई क्षति का आकलन करने के लिए केंद्रीय दल गुरुवार को भोपाल पहुंच गया। दल ने कृषि उत्पादन आयुक्त केके सिंह से मुलाकात कर बाढ़ से फसलों को हुए नुकसान को लेकर चर्चा की। दल शुक्रवार को होशंगाबाद, देवास, रायसेन और सीहोर जिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण करेगा। केंद्रीय दल संयुक्त सचिव भारत सरकार आशुतोष अग्निहोत्री के नेतृत्व में 12 सितंबर तक मध्य प्रदेश प्रवास पर है। दल जिलों के सर्वे के बाद 12 सितंबर को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर दिल्ली रवाना होगा।

सर्वे करने दोबारा आएगा दल

सूत्रों का कहना है कि केंद्रीय दल अभी नुकसान का प्रारंभिक आकलन करने आया है। इसके बाद राज्य सरकार नुकसान की भरपाई के लिए राहत पैकेज देने को लेकर केंद्र सरकार को मेमोरेंडम भेजेगी। इसके बाद फिर से केंद्रीय दल बाढ़ प्रभावित जिलों का दौरा कर रिपोर्ट केंद्र को सौपेंगे। इस रिपोर्ट के आधार पर केंद्र मध्य प्रदेश को राहत पैकेज देने के संबंध में निर्णय लेगा।