कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने गुरुओं के सामने झुकाया शीश, किसान संसद पर कही ये बड़ी बात

कृषि मंत्री ने कहा कि वो यदि प्रस्ताव लेकर आएंगे तो हम बात करेंगे। 

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर(Narendra Singh Tomar) गुरु पूर्णिमा के मौके पर शनिवार को अपने गृह नगर ग्वालियर (Gwalior) पहुंचे।  यहाँ उन्होंने गुरु स्थानों पर पहुंचकर उनके सामने शीश झुकाया और आशीर्वाद लिया। कृषि मंत्री ने संघ द्वारा  संचालित हॉस्पिटल में सीटी स्कैन मशीन का उद्घाटन किया।  कृषि मंत्री ने पत्रकारों से बात करते हुए किसान संसद पर तंज कसा।

गुरु पूर्णिमा पर अपने घर ग्वालियर पहुंचे केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने अपने गुरुओं का पूजन कर उनसे आशीर्वाद प्राप्त किया। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने इस अवसर पर परम पूज्य गुरुजी श्रीश्री 1008 महात्यागी चंद्रमा दास जी महाराज की पूजा कर उनसे आशीर्वाद लिया। इसी तरह मुरार के त्यागी नगर स्थित संत शिरोमणि परम पूज्य गुरुदेव श्री उदय भान सिंह जी सिकरवार की पूजा कर उनसे आशीर्वाद लिया। केंद्रीय कृषि मंत्री ने परम पूज्य श्री विश्वास प्रवासी जी महाराज की भी पूजा की। कृषि मंत्री ने तीनों ही सिद्ध स्थानों पर गुरु शिष्य परंपरा का निर्वहन करते हुए गुरुओं के आगे शीश नवाया और गुरुओं से सदैव उनका मार्गदर्शन करने और आशीर्वाद बनाए रखने की प्रार्थना भी की।

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने गुरुओं के सामने झुकाया शीश, किसान संसद पर कही ये बड़ी बात

ये भी पढ़ें – उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की हालत नाजुक, लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने गुरुओं के सामने झुकाया शीश, किसान संसद पर कही ये बड़ी बात

कृषि मंत्री ने संघ द्वारा संचालित आरोग्यधाम चैरिटेबल हॉस्पिटल ग्वालियर में 2 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित की गई सीटी स्कैन मशीन का उद्घाटन किया।  इस अवसर पर मीडिया से बात करते हुए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि आरोग्यधाम ग्वालियर का चैरटेबल हॉस्पिटल है, हेडगेवार जी की जन्म शताब्दी पर संघ ने ये प्रकल्प हाथ में लिया था और आज ये क्षेत्र के तमाम गरीबों की सेवा कर रहा है यहाँ से काम दाम पर इलाज मिल रहा है। यहाँ काम कर रहे डॉक्टर और अन्य स्टाफ सेवा भाव से कम पैसे में काम करते हैं इसलिए हमारा प्रयास रहता है कि यहाँ जितने साधन बढ़ेंगे उतना गरीब मरीजों को लाभ होगा। उन्होंने कहा कि जब कोरोना काल में सीटी मशीन की आवश्यकता महसूस हुई उस समय हमने CSR मद से अपने संबंधों का उपयोग कर 2 करोड़ रुपये की सीटी स्कैन अस्पताल को उपलब्ध कराई है जिसका आज से उपयोग शुरू हो गया है।

ये भी पढ़ें – स्कूल, शिक्षा-किसानों को लेकर क्या बोले सीएम शिवराज सिंह चौहान, पढे़ यहां

दिल्ली में जंतर मंतर पर किसान संगठनों द्वारा सामानांतर संसद चलाये जाने के सवाल पर  केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि संसद तो एक ही होती है जिसे जनता चुनकर भेजती है वो संसद, संसद है बाकि जो यूनियन्स के लोग इस प्रकार की बातें कर रहे हैं और आंदोलन कर रहे हैं वो एक तौर से निरर्थक हैं। हमने कई बार यूनियन के लोगों को कहा है कि उन्हें आंदोलन का रास्ता छोड़कर वार्ता का रास्ता अपनाना चाहिए। कृषि मंत्री ने कहा कि वो यदि प्रस्ताव लेकर आएंगे तो हम बात करेंगे।