पूर्व मंत्री का आरोप- कोरोना महामारी के बीच चल रहा भारी भ्रष्टाचार

pc sharma

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना (Corona) अब बेकाबू रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। रोज प्रदेश में बड़ी संख्या में कोरोना के केस सामने आ रहे है। प्रदेश में कोरोना हर रोज़ एक नया रिकॉर्ड स्थापित करते हुए जा रहा है। बढ़ते कोरोना पर पूर्व मंत्री पीसी शर्मा (Former Minister PC Sharma) ने प्रदेश सरकार (State Government) को अपने निशाने पर लेते हुए कहा कि कोरोना के सक्रिय केस प्रदेश में बढ़ रहे हैं। लगातार कोरोना की महामारी फेल रही है, जबकि सरकार अपना दायित्व निभाने के बजाए जनता पर छोड़ रही हैं। पीसी शर्मा ने कहा कि, कोरोना महामारी के बीच में भारी भ्रष्टाचार चल रहा है।

बालाघाट और मंडला जिले में वेयर हाउस एवं राशन की दुकानों में सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों से चावल के 32 सैंपल एकत्रित किए गए थे। जिनकी जांच दिल्ली के सीजीएलएल लैब में कराई गई थी। लैब ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि पूरा सैंपल ह्यूमन कंजप्शन के योग्य नहीं पाए गए। जो चावल सप्लाई किया गया व पोल्ट्री ग्रेड का था। इस पर पूर्व मंत्री ने कहा, जो चावल पशु नहीं खा सकते वह जनता को परसों जा रहा है। इसका टेस्ट स्वयं केंद्र सरकार ने कराया है। पूर्व मंत्री ने कहा नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहू लाल साहू को पूरे मामले की कोई जानकारी नहीं इसलिए कमल नाथ उन्हें मंत्री नहीं बनाया था। भाजपा बोल रही है कि चावल हमने खरीदे है तो उस समय भी मंत्री वही थे जो अब चले गए है। उन्होंने कहा यह वही लोग है जो या तो बन गए या बन नही पाएं।

सरकार ने गणेश जी का किया अपमान

गणेश प्रतिमा के विसर्जन पर पीसी शर्मा ने कहां की गणेश प्रतिमा विसर्जन जो हुई उसको लेकर हमने टेबल लगाने की मांग की थी, मगर ऐसा नही हुआ और कचरे की गाड़ी में गणेश जी का विसर्जन कर सरकार ने गणेश जी का अपमान किया है। फसल बीमा योजना पर पूर्व मंत्री शर्मा ने कहा कि कृषि मंत्री कमल पटेल चिट्टियां लिखकर टाला मटोली कर रहे हैं। बीमा जमा करने के लिए इस की तारीख बढ़ाई जाना चाहिए।

किसान की पूरी फसल का मिले उचित मुआवजा

सीहोर में हुई किसान आत्महत्या पर पीसी ने कहां की किसान पुत्र को सीखा कर झूठा बनाया दिलवाया गया है। उन्होंने कहाँ की मृतक किसान की पूरी फसल का सर्वे करवा कर उचित मुआवजा देना चाहिए। विधानसभा सत्र को लेकर कहाँ की हम बिजली और किसानों के मुद्दों को उठाएंगे हम इन्ही बातों को विधानसभा में रखने जा रहे हैं। पीसी शर्मा ने आईएएस और आईपीएस के सीपीएफ बढ़ाने पर कहा की, आईएएस आईपीएस का सीपीएफ परसेंटेज 10 से 14 परसेंट हो गया है लेकिन मध्यप्रदेश में नहीं हुआ है जल्द से जल्द मध्यप्रदेश में भी बढ़ना चाहिए।

जनता इन्हें सिखाएगी सबक

हनी ट्रैप की आरोप श्वेता के साथ जेलर की फ़ोटो वायरल होने पर पीसी शर्मा ने कहा कि, हनी ट्रैप जो कांग्रेस के जमाने में हुआ था उसमें सभी को जेल में बंद कर दिया गया है तथा बीजेपी के जमाने में जेलर बैठकर वही महिला से बातें कर रहे हैं। बीजेपी के राज में जितने भी स्तर के कर्म है एक के बाद एक होते जा रहे हैं निश्चित तौर पर 27 विधानसभा चुनाव में जनता इन्हें सबक सिखाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here