Bhopal: 3 सितंबर से राजधानी में दौड़ेगी लो फ्लोर बसें, गाइडलाइन का करना होगा पालन

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना(Corona) काल में करीबन चार महीने से पूरे प्रदेश में बसों का संचालन बंद पड़ा हुआ है।शिवराज सरकार ने एडवाइजरी(Advisory) कर 20 अगस्त से प्रदेश भर में पूरी क्षमता के साथ बसों(Buses) के संचालन की बात कही थी किंतु बस एसोसिएशन(Association) और ऑपरेटरों(operators) इस निर्देश को मानने से इंकार कर दिया था। उनका कहना था कि पहले उनकी मांगे पूरी की जाए जिसके बाद ही वह बसों का संचालन करेंगे। अब राजधानी में एक बार फिर बसों के संचालन का निर्णय लिया गया है। भोपाल में 3 सितंबर 2020 से लो फ्लोर बसें(Low floor buses) चलाई जाएंगी। फ़िलहाल राजधानी की दो रूट पर कुल 9 बसें चलेंगी।

दरअसल भोपाल(Bhopal) शहर के नागरिकों को सुविधाजनक लोक परिवहन सेवा प्रदान करने के लिए नगरीय बसों के संचालन का आदेश जारी किया गया है। जिसके लिए विभिन्न अनुमोदित मार्गों का चयन किया गया है। इससे पहले राज्य शासन ने आदेश जारी करते हुए लॉकडाउन खोलने के बाद बसों के संचालन की अनुमति प्रदान की थी। जिस के आदेश का पालन करते हुए बीसीएलएल(BCLL) द्वारा सिटी बसें(City buses) संचालित करने का निर्णय लिया गया। यह बसें 3 सितंबर 2020 से 2 मार्गो पर संचालित की जाएगी। फिलहाल दो प्रस्तावित मार्गों पर 9 बसें दौड़ेंगी।

बता दें कि राजधानी भोपाल में इससे पहले 200 बसों का नियमित संचालन किया जा रहा था। जिसमें लगभग 1.50 लाख यात्री रोजाना यात्रा करते थे। वहीँ कोरोना संक्रमण के फैलाव के बाद से मार्च महीने से बसों का संचालन बंद कर दिया गया।   सरकार ने आदेश जारी करते हुए प्रदेशभर में पूर्ण क्षमता से बसों के संचालन की बात कही थी किन्तु बस ऑपरेटर्स ने सरकार के इस निर्देश को मानने से इंकार कर दिया था।   उनका कहना था कि बसों का संचालन बंद है। ऐसी स्थिति में हर महीने टैक्स जमा क्यों करें? वहीँ उन्होंने कोरोना काल को में उनके छह महीने का टैक्स माफ करने कि बात कही थी। अब गाइडलाइन(Guideline) का पालन करते हुए फ़िलहाल कुछ रूटों पर बसों के संचालन को मंजूरी दी गई है।