भूपेश बघेल के बयान पर सिंधिया समर्थक मंत्री का पलटवार, किसी के प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं

तुलसीराम सिलावट ने कहा कि कांग्रेस के चाहे मुख्यमंत्री हो या कोई और नेता उनके पास ज्योतिरादित्य सिंधिया के अलावा बोलने के लिए कुछ बचा नहीं है ये निराधार और झूठ बयान देना कांग्रेस की आदत बन चुकी है।     

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर जिले के प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को लेकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) के बयान पर पलटवार किया है। ग्वालियर के दौरे पर आये तुलसीराम सिलावट (Tulsiram Silawat) ने कहा कि जो व्यक्ति हमेशा देने की बात करता है विकास और प्रगति की बात करता उसके लिए किसी के प्रमाणपत्र की जरुरत नहीं है, कांग्रेस का नेता हो या मुख्यमंत्री उनके पास ज्योतिरादित्य सिंधिया पर बोलने के अलावा कुछ बचा नहीं है।

मध्यप्रदेश के जल संसाधन, मछुआ कल्याण तथा मत्स्य विकास मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट बुधवार को दो दिवसीय प्रवास पर ग्वालियर आये। ग्वालियर पहुँचने के बाद उन्होंने सबसे पहले राजमाता विजयाराजे सिंधिया एवं माधवराव सिंधिया की छत्री पहुँचकर पुष्पांजलि अर्पित की। मंत्री तुलसीराम सिलावट ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय एवं श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर भी माल्यार्पण किया।

ये भी पढ़ें – जनसंख्या नियंत्रण विधेयक पर पवैया का बड़ा बयान, राष्ट्रीय स्तर पर भी होना चाहिए ऐसा कानून

ग्वालियर जिले का प्रभारी मंत्री बनाये जाने के बाद पहली बार ग्वालियर जिले के प्रवास पर आए तुलसीराम सिलावट ने वरिष्ठ जनप्रतिनिधिगणों के निवास पर पहुँचकर उनसे सौजन्य भेंट भी की और जिले के विकास के लिये सुझाव सुने। साथ ही सभी से जिले के सुनियोजित विकास में सहयोग देने का आग्रह किया। प्रभारी मंत्री सिलावट ने पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया, पूर्व मंत्री श्रीमती माया सिंह, पूर्व मंत्री नारायण सिंह कुशवाह, पूर्व महापौर श्रीमती समीक्षा गुप्ता व भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगणों के निवास पर पहुँचकर सौजन्य भेंट की। साथ ही वरिष्ठ पत्रकार डॉ. केशव पाण्डेय के निवास पर पहुँचकर उनकी पत्नी के निधन पर शोक संवेदनाएँ व्यक्त की।

पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया के निवास पर  पत्रकारों से बात करते हुए प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि पवैया जी भारतीय जनतापार्टी के वरिष्ठतम नेता हैं मैं मार्गदर्शन लेने आया हूँ, क्या मार्गदर्शन मिला प्रश्न एक जवाब में तुलसीराम सिलावट ने कहा कि भाजपा को कैसे शक्तिशाली बनायें, जैसे इन्होंने सींचा था गढ़ा था उसकी जानकारी ली है हम भी कोशिश करेंग कि हम लोग भी उसी तरह चलें।

ये भी पढ़ें – पूर्व राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा का बयान, कहा-दिग्विजय सिंह बढ़िया है मगर आदतें खराब है!

छत्तीगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा सिंधिया को बिकाऊ कहे जाने के सवाल पर सिंधिया समर्थक मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि कांग्रेस बची कहाँ है? आप ग्वालियर रियासत में हो जो व्यक्ति हमेशा देने की बात करते है, विकास की बात करते हैं, प्रगति की बात करते हैं, उन्होंने जो सरकार गिराई थी डंके की चोट पर गिराई थी, किसानों के साथ धोखा, युवाओं के साथ धोखा, बहन बेटियों के साथ धोखा हर वर्ग के साथ धोखा किया था कमलनाथ सरकार ने।

ये भी पढ़ें – सिविल जज परीक्षा : जबलपुर हाईकोर्ट के निर्देश- “2 सदस्यीय समिति 2 सप्ताह में करेगी आपत्तियों का निराकरण”

तुलसीराम सिलावट ने कहा कि जब अतिथि विद्वान की बात सिंधिया जी ने की थी तो कमलनाथ जी ने कहा था कि उतर जाओ सड़क पर, तो डंके की चोट पर उतर गए थे सड़क पर। अब ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस के या किसी और के प्रमाणपत्र की जरुरत नहीं है, जनता ने हमें प्रमाणपत्र दे दिया है और अब ये सरकार स्थाई बनी है। तुलसीराम सिलावट ने कहा कि कांग्रेस के चाहे मुख्यमंत्री हो या कोई और नेता उनके पास ज्योतिरादित्य सिंधिया के अलावा बोलने के लिए कुछ बचा नहीं है ये निराधार और झूठ बयान देना कांग्रेस की आदत बन चुकी है।