भाजपा का हमला: कांग्रेस और कमलनाथ ना बेटियों का सम्मान करते हैं ना संविधान का

भाजपा विकास के मुद्दे पर ही चुनाव लड़ रही है जबकि कांग्रेस इस चुनाव में मुद्दे से भटकाने का काम करने में लगी हुई है।जनता को गुमराह करने का काम कर रही है। अपशब्दों के इस्तेमाल पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी निर्वाचन आयोग जैसी सभी संवैधानिक संस्थाओं का पूरा सम्मान करती हैं

कांग्रेस

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। चुनाव प्रचार का अंतिम दिन पार्टियां अब पूरी ताकत झोंक रही हैं। कहीं सभा हो रही हैं कहीं रोड शो कहीं बैठकें। दोनों ही दल सभी सीटें जीतने के दावे कर रहे हैं। इधर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने ग्वालियर में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस पर जमकर हमला बोला उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति ना बेटियों का सम्मान कर सकता, जो ना अपने वरिष्ठ नेता का कहना मानता, जो न संविधान का सम्मान करे, जो चुनाव आयोग जैसी संवैधानिक संस्था के आदेश का अपमान करे उसके गुरुर को जनता 3 तारीख को जरूर तोड़ेगी।

ग्वालियर में भाजपा चुनाव कार्यालय के अटल सभागार में प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा उन्होंने कहा कि आम मतदाता को आज यह समझना आवश्यक है कि यह चुनाव क्यों हो रहे हैं । क्योंकि 2018 में कांग्रेस ने जनता से वादे किए थे वह पूरे नहीं किए और जो लोग जनता के जनप्रतिनिधि थे उन्होंने जब कमलनाथ से वादे पूरे करने की कहा कि तो मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विकास के लिए पैसा नही दिया उल्टा जन प्रतिनिधियों का अपमान किया। कमलनाथ ने दिग्विजय सिंह के इशारे पर ग्वालियर चंबल संभाग के विकास को रोक दिया क्योंकि सिंधिया इस क्षेत्र के नेता थे। सिंधिया जी ने जब वादे पूरे करने के लिए सड़क पर उतरने की बात की तो उनसे कह दिया कि उतर जाओ।

Read More:  इंदौर निगमकर्मी ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में लिखा- मैं अब जीना नहीं चाहता क्योंकि

इसलिए सिंधिया जी ने अपने साथियों के साथ कमलनाथ और उनकी सरकार को सड़क पर खड़ा कर दिया। अब कांग्रेस की जमीन खिसक गई है। इसलिए वो अनर्गल बातें कर रही है। वीडी शर्मा ने कहा कि कमलनाथ ने दिग्विजय के इशारे पर गरीबों का हक छीना, गरीबों की योजनाएं बंद करवा दी जिसका जवाब जनता देगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास अब ना नेता बचे हैं ना नेतृत्व और ना कार्यकर्ता। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति ना बेटियों का सम्मान कर सकता, जो ना अपने वरिष्ठ नेता का कहना मानता, जो न संविधान का सम्मान करे, जो चुनाव आयोग जैसी संवैधानिक संस्था के आदेश का अपमान करे उसके गुरुर को जनता 3 तारीख को जरूर तोड़ेगी।

वीडी शर्मा ने कहा कि इस चुनाव में विकास प्रमुख मुद्दा है। चूंकि कांग्रेस ने प्रदेश का विकास रोक दिया था हालात 2003 वाले होने लगे थे। अब जनता 15 महीने का हिसाब माँग रही है तो हिसाब ना देना पड़े इसलिए कांग्रेस झूठ और छल कर रही है । उन्होंने कहा कि जो पार्टी लिखित में धोखा दे सकती है वो क्या प्रदेश का भला करेगी। भाजपा विकास के मुद्दे पर ही चुनाव लड़ रही है जबकि कांग्रेस इस चुनाव में मुद्दे से भटकाने का काम करने में लगी हुई है।जनता को गुमराह करने का काम कर रही है। अपशब्दों के इस्तेमाल पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी निर्वाचन आयोग जैसी सभी संवैधानिक संस्थाओं का पूरा सम्मान करती हैं ईसी के द्वारा हमारे जिस भी नेता को नोटिस दिया गया उसका अक्षरशः उनके द्वारा पालन किया गया है।

Read More: आग मेें झुलसकर युवक की मौत मामले में बड़ा खुलासा, दोस्तों ने ही लगाई थी घर में आग

अभी इमरती देवी को नोटिस दिया है तो वह पूरी तरीके से उसका पालन करेंगी। कांग्रेस ही चुनाव आयोग के आदेश पर शक कर रही है कमलनाथ कह रहे हैं मेरी आवाज दबाने को प्रयास किया जा रहा है याद रखिये ये काम इंदिरा गांधी ने किया था जब इमारजेंसी लगाई थी। उमंग सिंगार के आरोपों पर कहा कि यह वही उमंग सिंगार हैं जो सरकार में मंत्री रहते हुए अपने ही पूर्व मुख्यमंत्री पर माफिया होने का आरोप लगाते थे पहले उस बात का जवाब दें तब सिंधिया पर आरोप लगाएं। डबरा की सभा में ज्योतिरादित्य सिंधिया के जुबान फिसलने के सवाल पर कहा वीडी शर्मा ने कहा कि जुबान फिसलना एक मानवीय क्रिया है लेकिन कांग्रेस नकुलनाथ के उस बयान पर जरूर विचार करें जिसमें उन्होंने आगर प्रत्याशी को दूल्हा बताते हुए जनता से उन्हें दामाद बनाने की बात कही है, अब जनता इस बात का जवाब उन्हें जरूर देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here