उपचुनाव: BJP में उठने लगे पार्टी विरोधी स्वर, अब इस पूर्व मंत्री ने कहा- “देखूंगा अन्य विकल्प”

People-protest-against-bjp-cnadidate

भोपाल।

मध्यप्रदेश(madhyapradesh) में उपचुनाव(By-election) के पूर्व ही बीजेपी(BJP) में अंदरूनी कलह की स्थिति शुरू हो गयी है। जहाँ सिंधिया(scindia) समर्थक नेताओं के कारण पार्टी में विरोध के स्वर फूटने लगे हैं। जिसके साथ ही बीजेपी नेताओं ने अपने बगावती सुर अपना लिए हैं। इसी बीच पूर्व मंत्री और भाजपा विधायक(BJP Mla) दीपक जोशी ने साफ़ किया है कि यदि उनके राजनीतिक मुद्दे पर पार्टी में उनके साथ नाइंसाफी होती है तो वे दूसरे विकल्पों पर भी विचार कर सकते हैं।

दरअसल पूर्व मंत्री और भाजपा से तीन बार के विधायक दीपक जोशी(Deepak joshi) ने कहा कि अभी वो पार्टी(party) के साथ हैं लेकिन उन्होंने कहा कि उनके लिए सारे विकल्प खुले हैं और वक्त आने पर वो इस पर विचार कर सकते हैं। उन्होंने कहा है कि मैं भी मनुष्य हूं। अगर राजनीति का यही रूप है तो इसका प्रयोग मैं भी करूंगा। बता दें कि हाटपिपल्या विधानसभा सीट से उपचुनाव मनोज चौधरी लड़ेंगे। ऐसे में दीपक जोशी अपने राजनीतिक भविष्य को लेकर असमंजस की स्थिति में हैं। जिसके बाद ये अंदेशा लगाया जा रहा है कि वो दूसरे विकल्प पर भी विचार कर सकते है।

बता दें कि दीपक जोशी हटपिपल्या विधानसभा सीट से दो बार लगातार विधायक रह चुके हैं। वे एक बार बागली विधानसभा सीट से भी विधायक रह चुके हैं। दीपक जोशी 2013 में मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार में स्कूल, उच्च शिक्षा और स्किल डेवलपमेंट मंत्री भी रहे थे। जिसके बाद 2018 के विधानसभा चुनाव में उन्हें ज्योतिरादित्य समर्थक मनोज चौधरी से करीब 23 हजार वोटों से हार का सामना करना पड़ा था। अब ये तो तय है कि हटपिपल्या से मनोज चौधरी चुनाव लड़ेंगे। जिसके बाद अब जोशी ने पार्टी विरोधी स्वर अलापे हैं।