Corona In Bhopal: अबतक का सबसे बड़ा विस्फोट, 106 पॉजिटिव, हर संडे जनता कर्फ्यू

mp

भोपाल।
एमपी (mp)की राजधानी भोपाल (bhopal) में हालात गंभीर से गंभीर हो चले है। आए दिन 80-90 कोरोना पॉजिटिव के मिलने से आंकड़ों में तेजी से इजाफा हो रहा है। आज रविवार को फिर राजधानी में कोरोना के 106 नए मरीज मिले। इससे पहले शनिवार को 95 और शुक्रवार को 86 मरीज मिले थे।लगातार बढ़ते आंकड़ों के बाद भोपाल कलेक्टर ने सख्ती बरतने शुरु कर दिया है। आज से हर रविवार को पूरे जिले में कर्फ्यू लागू रहेगा। भोपाल में कोरोना के कुल केस 3604 है, जिसमें से 121 की मौत हो चुकी है।

दरअसल, आज रविवार को 102 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। भोपाल में एक दिन में सबसे ज्यादा मरीज मिले है।इसमें मीडिया संस्थान एमपीनगर जोन एक से 2 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।मिराकल अस्पताल एमपीनगर जोन (Miracle Hospital Empinagar Zone) एक से एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित निकला।डीमार्ट बरखेड़ी (Dmart Barkheri) से एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिला। नगर निगम कालोनी से एक व्यक्ति की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। नेहरूनगर से तीन लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। ओमशिव कालोनी लालघाटी से एक ही परिवार से तीन व्यक्तिओ की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

इतना ही नही जहांगीराबाद क्षेत्र (Jahangirabad region) से 2 लोगो की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। टीबी अस्पताल (TB Hospital) के एक कर्मचारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। आरटीओ ऑफिस शाहजहानाबाद से एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित निकला।। विनर स्टैंड चुना भट्टी (Winner stand chosen furnace) से 3 लोग निकले संक्रमित।जिले में 100 दिन के बाद नए इस केस की यह सबसे बड़ी संख्या रिकॉर्ड की गई है। इससे पहले 7 जुलाई को जिले में 86 संक्रमित व्यक्तियों की पुष्टि की गई थी।

दूसरी ओर जिला कलेक्टर अविनाश लवानिया (District Collector Avinash Lavania) ने रविवार को कर्फ्यू (Sunday Curfew) का आदेश दिया है। जिसमे सिर्फ इमरजेंसी सेवा चालू रहेगी। लोगों को घर पर ही होम डिलीवरी, पार्सल जैसी सुविधा मिलेगी। शराब, भांग, किराना समेत सभी दुकानें, लोडिंग-अनलोडिंग कार्य, परिवहन सब बंद रहेंगे। सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं सुचारू रहेंगी, बाकी सब कुछ बंद रहेगा। न कोई घर से निकलेगा और न ही होम डिलीवरी, पार्सल जैसी सुविधा मिलेगी। घर से बेवजह बाहर घूमते मिले तो संबंधित पर धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।शहर के विभिन्न हिस्सों के संक्रमित इलाकों को सैनिटाइज किया जाएगा। वही किसी के बाहर निकलने पर उस पर धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।