मध्यप्रदेश में खाकी वर्दी पर मंडरा रहा कोरोना का वायरस

state-police-service-officers-transfer

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट 

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना (Corona) का कहर लगातर बढ़ते जा रहा है। आमजन से लेकर नेता तक इसके शिकार होते जा रहे है। राज्य में कोरोना लगभग हर हिस्से को अपनी गिरफ्त में ले चुका है और यही कारण है कि संक्रमण को रोकने के लिए विभिन्न हिस्सों में लॉकडाउन जैसे कदम उठाना पड़ रहे हैं। वहीं कोरोना की रोकथाम में अहम भूमिका निभा रहे पुलिसकर्मी (Police) भी इसकी गिरफ्त में आते जा रहे है। संदिग्ध मरीजों के संपर्क में आने से पुलिस बल में भी कोरोना फैल रहा है।

पुलिस विभाग (Police Department) से मिले आंकड़ों के मुताबिक प्रदेश में अब तक 250 से ज्यादा अधिकारी और कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके है। वहीं एक हजार से ज्यादा अधिकारियों और कर्मचारियों को क्वांटाइन करना पड़ा है। इसका असर पुलिस की कार्यक्षमता पर पड़ रहा है। पुलिस बल में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर पुलिस मुख्यालय ने भी चिंता जताई है। सूत्रों के अनुसार प्रदेश मुख्यालय की ओर से तमाम अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि पूर्व में अधिकारियों और कर्मचारियों के जो अवकाश स्वीकृत किए गए थे उन पर रोक लगाई जाती है। अधिकारी और कर्मचारी अपना मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे।

राज्य में कोरोना के चलते अब तक भोपाल में एक पुलिस उपाधीक्षक प्रेम प्रकाश गौतम, इंदौर में थाना प्रभारी देवेंद्र चंद्रवंशी, उज्जैन के थाना प्रभारी यशवंत पाल और एक सहायक उपनिरीक्षक कुंवर सिंह सहित कई पुलिस अधिकारियों और जवानों की मौत तक हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here