शिव ‘राज’ में कलेक्टर के आगे दंडवत अन्नदाता

किसान संघ के पदाधिकारी बीते 4 दिन से खराब हुई सोयाबीन एवं उड़द की फसल के मुआवजे सहित कुछ मांगों को लेकर धरने पर बैठे हुए हैं। मगर कलेक्टर द्वारा इनकी मांगों पर अभी तक कोई सकारात्मक जवाब नहीं दिया गया है। इस कारण किसानों ने यह अनोखा प्रदर्शन किया। किसान संघ ने कलेक्टर पर असंवेदनशील एवं किसान विरोधी होने का आरोप लगाया है।

अशोकनगर,हितेंद्र बुधौलिया। मध्य प्रदेश सरकार और उसके मुखिया शिवराज सिंह चौहान भले ही किसानों को देश और प्रदेश का अन्नदाता कहते हैं। मगर अशोकनगर जिले के कलेक्टर किसानों को कुछ भी नहीं समझते और खुद को भगवान समझते हैं । इसलिए 4 दिन से कलेक्ट्रेट के सामने आंदोलनरत भारतीय किसान संघ के पदाधिकारी आज कलेक्टर दफ्तर में धरना स्थल से दंडवत करते हुए पहुंचे, ताकि उनकी सुनवाई हो सके।

इस दौरान भारतीय किसान संघ के जिला अध्यक्ष राजकुमार रघुवंशी चक्कर खाकर बेहोश भी हो गए। किसान संघ के पदाधिकारी बीते 4 दिन से खराब हुई सोयाबीन एवं उड़द की फसल के मुआवजे सहित कुछ मांगों को लेकर धरने पर बैठे हुए हैं। मगर कलेक्टर द्वारा इनकी मांगों पर अभी तक कोई सकारात्मक जवाब नहीं दिया गया है। इस कारण किसानों ने यह अनोखा प्रदर्शन किया। किसान संघ ने कलेक्टर पर असंवेदनशील एवं किसान विरोधी होने का आरोप लगाया है।

भारतीय किसान संघ के जिला अध्यक्ष रामकुमार रघुवंशी ने बताया कि 4 दिन से किसान सोयाबीन एवं उड़द की खराब हुई फसल के मुआवजे सम्मान निधि आदि किसानों की 9 सूत्री मांगों को लेकर धरने पर बैठे हैं। मगर अभी तक किसानों की मांगों पर कलेक्टर ने कोई सकारात्मक पहल नहीं की। साथ ही उन्होंने कलेक्टर अभय वर्मा पर आरोप लगाया कि यह पूरी तरह से किसान विरोधी है और वह अपने आप को भगवान से कम नहीं समझते। इसलिए आज उनको मनाने और किसानों के हित में काम करने के लिए जिस तरह मंदिर में भगवान को मनाने जाते हैं। उसी तरह किसान जमीन पर लेटते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे है,ताकि किसानों की मांगों का निराकरण हो सके। किसानों ने इस दौरान कलेक्ट्रेट के गेट पर नारियल भी फोड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here