राज्यपाल के कड़े तेवर, कमलनाथ को 17 को बहुमत साबित करने के आदेश

KAMAL NATH

भोपाल। राज्यपाल लालजी टंडन ने सीएम कमलनाथ को पत्र लिखते हुए कहा है कि सरकार 17 मार्च को फ्लोर टेस्ट कराए और ऐसा न होने की स्थिति में सरकार को अल्पमत में माना जाएगा।

प्रदेश में पल पल बदलते सियासी माहौल के बीच राज्यपाल लालजी टंडन ने प्रदेश की कमलनाथ सरकार को 16 मार्च को सदन में फ्लोर टेस्ट कराने को कहा था। सोमवार को विधानसभा सत्र प्रारंभ हुआ किंतु राज्यपाल के अभिभाषण के बाद सदन की कार्यवाही 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी गई थी। इसके बाद कांग्रेस और बीजेपी ने राज्यपाल से मुलाकात की और अब राज्यपाल लालजी टंडन ने कमलनाथ सरकार को पत्र लिखकर  17 मार्च को ही विधानसभा में  फ्लोर टेस्ट में बहुमत सिद्ध करने को कहा है।

आपको बता दें कि सोमवार को राज्यपाल के अभिभाषण के बाद कोरोना के कारण सदन को 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। इसके बाद राज्यपाल ने अपने पत्र में नाराज़गी जताते हुए कमलनाथ सरकार को पत्र लिखकर मंगलवार को मध्यप्रदेश विधानसभा में बहुमत सिद्ध करने को कहा है। राज्यपाल ने अपने पत्र में कहा है कि यह खेद की बात है कि आपने मेरे द्वारा दी गई समय अवधि में अपने बहुमत सिद्ध करने की बजाय विश्वासमत प्राप्त करने का विधानसभा में फ्लोर टेस्ट कराने में अपनी असमर्थता जाहिर की है। राज्यपाल ने कमलनाथ सरकार को लिखे पत्र में कहा है कि संवैधानिक और लोकतंत्र मान्यताओं का सम्मान करते हुए 17 मार्च को विधानसभा में बहुमत सिद्ध करें अन्यथा यह मान लिया जाएगा कि वास्तव में कमलनाथ सरकार को विधानसभा में बहुमत प्राप्त नहीं है|

राज्यपाल के कड़े तेवर, कमलनाथ को 17 को बहुमत साबित करने के आदेश