ग्वालियर, अतुल सक्सेना। गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने बंगाल चुनावों में हुई हिंसा पर चिंता जताई है और राजनीति में हिंसा को गलत बताया है। उन्होंने कहा कि देश विपरीत परिस्थितियों से गुजर रहा है। हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने दतिया जाकर मां पीताम्बरा के दर्शन किये और ग्वालियर में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की।

चर्चित युवा नेता और गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल (Hardik Patel) बीती शाम ग्वालियर पहुंचे। उन्होंने युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव मितेंद्र दर्शन सिंह के घर डिनर किया और मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष अशोक सिंह, AICC की सदस्य रश्मि पवार शर्मा सहित अन्य नेताओं से मुलाकात की। मंगलवार को सुबह हार्दिक पटेल ने दतिया पहुंचकर मां पीताम्बरा के दर्शन किये। फिर वापस ग्वालियर पहंचकर कांग्रेस नेताओं से मुलाकात की और प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं एपेक्स बैंक के पूर्व चेयरमैन अशोक सिंह के घर लंच किया।

इस दौरान मीडिया से बात करते हुए गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने कहा कि देश विपरीत परिस्थितियों से गुजर रहा है. चाहे कोरोना का मामला हो या फिर किसानों का मामला अथवा लोकतंत्र का। हर तरफ से चिंता दिखाई दे रही है इसलिए मां पीताम्बरा के दर्शन करने आया हूँ। माई के आगे माथा टेका है और प्रार्थना की है कि देश के हालात सुधर जाएँ।

Hardik Patel ने किया गुजरात में सरकार बनाने का दावा, बंगाल चुनावों में हिंसा पर जताई चिंता

चार राज्यों में हो रहे मतदान के सवाल पर हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने कहा कि लोकतंत्र अभी विपरीत हालात में है मैं मतदाताओं से अपील करता हूँ कि वे अपने मत का प्रयोग करने घर से निकलें और सही व्यक्ति को चुनकर लोकतंत्र को मजबूत बनायें। बंगाल चुनावों में हो रही हिंसा पर चिंता जताते हुए गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने कहा कि ये बहुत गलत है हिंसा चाहें बीजेपी की तरफ से की जा रही हो या अन्य किसी पार्टी की तरफ से राजनीति में हिंसा गलत बात है.

ये भी पढ़ें – शिक्षक भर्ती प्रक्रिया के बीच कमलनाथ की सीएम शिवराज से मांग, बोले- कई हो जाएंगे अपात्र

सरकार कोई भी हो किसी भी पार्टी की हो चुनाव में हिंसा का वातावरण नहीं होना चाहिए। हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने कहा कि असम के विधानसभा चुनाव के दौरान एक भाजपा प्रत्याशी की गाड़ी से ईवीएम का मिलना भी चिंता का विषय है। ऐसे मुद्दों पर चुनाव आयोग को सख्त रुख अपनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि बार-बार चुनाव आयोग पर सवाल उठाए जा रहे है, ईवीएम पर सवाल उठाए जा रहे हैं इसपर जबाब तो देना होगा।

गुजरात के राजनैतिक माहौल के सवाल पर युवा कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने कहा कि गुजरात में आंदोलन खड़ा किये बहुत समय नहीं हुआ है, 2017 में शुरू किया था, बीजेपी 100 सीटों पर आ गई। गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने दावा किया कि गुजरात में अगली सरकार कांग्रेस की होगी।

ये भी पढ़ें – MP Board: 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षार्थियों को मिली राहत, मंत्री इंदर सिंह परमार का बड़ा बयान

मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने कहा कि गुजरात में किसान परेशान है उसे बहुत दिक्कतें हैं उसे फसल का सही दाम नहीं मिल रहा है, फसल बीमा का लाभ नहीं मिल पा रहा है, पानी को लेकर बहुत परेशानी है, नर्मदा का पानी कुछ जगह मिल रहा है कुछ जगह नहीं मिल रहा। राफेल के मुद्दे पर हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने कहा कि राफेल को लेकर  इस बार कांग्रेस ने नहीं बोला है, फ्रांस की मीडिया ने बोला है, जवाब तो देना पड़ेगा।