उप चुनाव से पहले कांग्रेस को लेकर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

मध्य प्रदेश में उपचुनाव को लेकर जहां एक तरफ सियासी हलचल तेज है। वहीं दूसरी तरफ पार्टियों द्वारा एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप जा रही है। इसी बीच कल अयोध्या में हुए राम जन्म भूमि पूजन के बाद प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस को घेरते हुए बड़ा निशाना साधा है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि देश में और कितने अच्छे दिन चाहिए। पीसीसी में भगवान राम लग जाए यही हमारी कल्पना थी। जो आज सच साबित हुई है।

दरअसल गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कांग्रेस का भगवाकरण हो गया है। सारा संसार सिया राम हो जाए। इससे ज्यादा अच्छे दिन और क्या हो सकते हैं। आज कांग्रेस कार्यालय भी राममय है। यही भारत की जीत है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि बीजेपी ने सौगंध खाई थी कि राम का मंदिर वहीं बनाएंगे। आज मंदिर के निर्माण का काम चालू हो गया है। बीजेपी एकमात्र ऐसी पार्टी है। जो कहती है वह करती है।

अब देश में एक विधान, एक प्रधान

इधर बहुजन हिताय बहुजन सुखाय सोच पर बोलते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पार्टी या अक्सर यही सोच लेकर राजनीति में आती तो है किंतु फिर अपने मकसद को अंजाम देने में लग जाती है। जबकि गृह मंत्री अमित शाह ने जो कहा वही किया। बीजेपी की खासियत यही है कि वह जो कहती है। वह अपने एजेंडे में शामिल करके उसे पूरा भी करती है। आज इसी वजह से ना देश में दो प्रधान है और ना ही दो विधान।गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि सवाल पार्टी की नीति का नहीं सवाल राष्ट्र का है।बीजेपी जितने निर्णय लेती है वह राष्ट्रहित में होते हैं।

कमियां निकालने की जगह किसानों का हित सोचें कमलनाथ

किसानों के मामले में बोलते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जब जब किसान की बात आती है। कांग्रेस के नेता खामोश हो जाते हैं। कांग्रेस ने किसान हित में आज तक कुछ नहीं किया। कर्ज माफ के नज्में पर किसानों के साथ छल करके कांग्रेस ने सरकार तो बना ली लेकिन किसानों का हित करना भूल गए।कांग्रेस के पास ना कोई रणनीति है ना कोई विचार। वह ट्विटर अखबारों तक ही रहने वाली पार्टी है। इसके साथ ही कृषि कैबिनेट मैं किसानों के हितों की चर्चा पर बोलते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि हमारे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्राथमिकता हमेशा कृषि और किसान को लेकर रही है। जल्द ही कृषि कैबिनेट पर बैठक की जाएगी।वहीं दूसरी तरफ कमलनाथ के शिलान्यास में आमंत्रित सदस्य को लेकर सवाल खड़े करने पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कमलनाथ को सिर्फ कमियां निकालना पसंद है। राजनीति करने की बजाए कमलनाथ को मध्य प्रदेश के किसानों की चिंता करनी चाहिए।

पंजाब सरकार के खिलाफ बीजेपी

इधर पंजाब सरकार द्वारा बासमती मामले पर बोलते हुए गृह मंत्री मिश्रा ने कहा कि वह इस विषय पर पंजाब सरकार के खिलाफ है। पंजाब में कांग्रेस की सरकार मध्यप्रदेश में किसानों पर कुठाराघात कर रही है।वहीं उन्होंने कमलनाथ पर सवाल खड़े करते हुए कहा है कि आखिर कमलनाथ इस विषय पर मौन क्यों है।

बता दे कि प्रदेश में सियासी उठापटक चालू है। एक तरफ जहां उपचुनाव को लेकर पार्टी अपनी रणनीति पर काम कर रही है। वहीं दूसरी तरफ एक दूसरे के खिलाफ मोर्चा खोलकर भी बैठी हुई है। आरोप प्रत्यारोप के बीच मध्य प्रदेश में उपचुनाव के साथ साथ नगर निकाय चुनाव की भी तैयारी शुरू हो चुकी है। जहां गृह मंत्री ने कांग्रेस पार्टी को हर विषय पर घेरा है। अब ऐसे में नरोत्तम मिश्रा के इस बयान पर कांग्रेस का पलटवार करती है यह देखना दिलचस्प होगा।