Indore: डीआईजी ने थानों को सेनेटाइज करने के दिए निर्देश, पुलिस करेगी पीपीई कीट का इस्तेमाल

इंदौर।आकाश धौलपुरे।

इंदौर में कोरोना के आधिकारिक आंकड़ो में जैसे जैसे वृद्धि हो रही है वैसे वैसे ही कोरोना का खतरा भी शहर पर बढ़ रहा है। ऐसे में इंदौर में डीआईजी हरिनारायणचारि मिश्र ने ऐसे दिशा निर्देश दिए जिसका पालन पुलिस को करना अब जरूरी होगा। दरअसल, जबलपुर, रीवा और सतना की जेल में बंद इंदौर के कैदियों की पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद डीआईजी की महकमे को लेकर चिंता बढ़ गई है। बता दे कि शहर में 27 मार्च को टाटपट्टी बाखल में स्वास्थ्य विभाग की टीम पर तो 7 अप्रैल को चन्दननगर में पुलिस जवान पर पत्थरबाजो ने हमला बोल दिया था जिसके बाद आरोपियों को रासुका के तहत जबलपुर, सतना और रीवा जेल में भेजा गया था।

जिनमे से चार आरोपियों के कोरोना से संक्रमित होने का मामला सामने आया है। जिसके बाद इंदौर पुलिस ने महकमे के 16 से 17 जवानों को क्वारन्टीन कर दिया है। इधर, इंदौर डीआईजी ने निर्देश दिए है कि अब शहर के सभी थानों को सेनेटाइज किया जाए साथ ही थाना प्रभारियों को निर्देश दिये है कि आरोपियों व अपराधियों को पकड़ते वक्त के पुलिस जवान पीपीई कीट का उपयोग करे। क्योंकि जब तक कोरोना की जांच नही हो जाती है तब तक पता नही चलता है कि कोई कोविड – 19 पॉजिटिव है या नही ऐसे में जवानों के खतरे में आने की संभावना बनी रहती है। अब इंदौर के पुलिस जवान 14 दिनों तक क्वारन्टीन मे है ऐसे में ये बात तो साफ है कि पुलिस भी कोरोना को लेकर चिंतित है लिहाजा वरिष्ठ अधिकारी पुलिस जवानों की सुरक्षा के लिए एतियाहतन कदम उठा रही है।