कोरोना को लेकर लोहे की दीवार नही खड़ी की जा सकती है, सावधानी ही सुरक्षा: सुलेमान

इंदौर।आकाश धोलपुरे।

मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में सोमवार को अतिरिक्त मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान ने इंदौर में मीडिया से चर्चा की। इस दौरान मो. सुलेमान ने कहा कि आईसीएमआर द्वारा जारी आंकड़े मान्य किये जायेंगे इसके अलावा किसी अन्य सोर्स द्वारा जांच/ मरीज के आंकड़े मान्य नहीं होंगे। उन्होंने इंदौर में कहा कि मानसून को लेकर प्रशासन सतर्क है और टेस्टिंग व ट्रीटमेंट के जरिये कोविड की जंग लड़ी जा रही है वही उन्होंने आम जनता से भी अपील की है कि वो डरे नही बल्कि सतर्क रहें ताकि कोरोना से लड़ा जा सके। इसके अलावा कोरोना को हराकर जंग जीत चुके मरीजो के दोबारा पॉजिटिव आने के सवाल उन्होंने कहा कि इसको लेकर वृहद स्तर पर जांच जारी है। इधर, विवाहसहित अन्य जरूरी आयोजन और शव यात्रा को लेकर उन्होंने बताया की केंद्र सरकार की गाइडलाइन का पालन इनको लेकर किया जा रहा है इसके अलावा स्थानीय स्तर पर प्रशासन भी इन मामलों को लेकर सजगता बरत सकता है। उन्होंने कहा कि किसी की मौत न हो लेकिन यदि ऐसा होता है तो शवयात्रा में शामिल 50 लोगों के स्वास्थ्य पर बन आती है क्योंकि कोरोना दौर में कोई लोहे की दीवार तो खड़ी नही हो सकती है इसलिए सावधानी ही कोरोना से सुरक्षा के लिये जरूरी है। उन्होंने कहा कि कोविड बिल्कुल भी घातक नही है लेकिन जरूरत है तो इस बात की समय रहते उसकी पहचान हो जाये ताकि सतर्कता और इलाज संभव हो सके।