इंदौर जहरीली शराब मामला, अब पुलिस का बयान आया सामने, कही यह बात

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मंदसौर (Mandsaur) के बाद इंदौर (Indore) के जहरीली शराब की खबर से समूचे प्रदेश में हड़कंप मचा हुआ है। जहां मंदसौर को लेकर राजनीति शुरु हो गई है वहीं दूसरी ओर इंदौर में अंग्रेजी शराब के सेवन के बाद हुई मौतो पर भी शराब में जहर को लेकर सवाल उठ रहे थे। ऐसे में पुलिस ने प्रारम्भिक पड़ताल के बाद प्रेस कांफ्रेंस लेकर कई ऐसे तर्क रखे है जिन पर जांच होना है।

यह भी पढ़ें…इंदौर में जहरीली शराब पीना युवकों पड़ा भारी, 3 की मौत, 1 की हालत गंभीर !

दरअसल, इंदौर पुलिस के पश्चिमी क्षेत्र के एसपी महेशचन्द्र जैन ने मीडिया से बात कर कहा कि इंदौर के बांगड़दा में स्थित पैराडाइज पब एंड (Paradise PUB And Bar ) बार लायसेंसी है और यहां लोग पास में स्थित शराब की दुकान से ही शराब खरीदते है। उन्होंने बताया कि पूरा मामला 23 जुलाई का है जब 7 दोस्त पैराडाइज बार पहुंचे थे। जिनमें से महाराष्ट्र में रहने वाले सागर की मौत हुई और उसके परिजन उसे महाराष्ट्र ले गए। इसके अलावा शिशिर उर्फ छोटू तिवारी भी पार्टी में शामिल था। जिसकी मौत के मामले में डॉक्टर्स ने सस्पेक्ट पॉयजन की बात कही है। उन्होंने बताया कि इन 7 लोगो मे रिंकू वर्मा भी शामिल है जिसका इलाज जारी है और वो अब स्वस्थ है। एसपी इंदौर ने बताया कि 7 लोग जो 23 जुलाई को पार्टी मनाने गए थे उनमें से 2 लोगो की मौत हुई है। वहीँ एक का इलाज जारी है। इसके अलावा 4 अन्य लोग स्वस्थ है जिनसे पुलिस ने बात की है।

सस्पेक्टेड पॉइज़न से हुई मौत

हालांकि, खबरों के मुताबिक जो जानकारी सामने आई थी उनमें अभिषेक अग्निहोत्री नामक व्यक्ति की मौत का मामला भी सामने आया है। लेकिन पुलिस का कहना है वो उन 7 लोगो मे शामिल नही था और उसके परिजनों से पता चला है कि कुछ दिन पहले उसको पलंग के किनारे से सिर के चोंट लगी थी और वो शराब का सेवन भी नही करता है। हालांकि अभिषेक की मौत के मामले में पुलिस ने ये भी कहा कि डॉक्टर्स ने उसे भी सस्पेक्टेड पॉइज़न ग्रसित बताया है। लिहाजा, दोनों ही मामलो में विसरा एकत्रित कर एफएसएल के पास जांच के लिए पहुंचा दिया गया है। पुलिस की माने तो प्रारंभिक पड़ताल और सीसीटीवी से पता चला है कि 7 लोगो ने 3 बॉटल रॉयल स्टेज और 4 बॉटल बीयर का सेवन किया था। इसके साथ ही उन्होंने खाने में कई प्रकार की चीजें खाई थी। पुलिस शराब दुकान से जांच के लिए 3 बॉटल रॉयल स्टेज भी जांच के लिए अपने कब्जे में ली है। पुलिस की माने तो प्रारंभिक तौर पर ये कहना ठीक नही है कि जहरीली शराब से मौत हुई है। क्योंकि पुलिस डॉक्टर्स के हिसाब से जांच कर रही है और सस्पेक्टेड पायजन का पता लगाया जा रहा है पुलिस को खाने के लिए मंगाई खाद्य सामग्री से लेकर इस बात की आशंका पर भी काम कर रही है कि उनकी खाद्य सामग्री में कुछ मिलाया तो नही गया।

फिलहाल, इंदौर पुलिस की जांच जारी है और प्रारम्भिक पड़ताल में पुलिस ने इस बात को एक तरह से नकार दिया है कि शराब जहरीली थी। हालांकि पुलिस की जांच जारी है क्योंकि उस दिन करीब 100 लोगो ने विदेशी शराब का सेवन कर खाना भी खाया था। इधर, सहायक आयुक्त आबकारी राजनारायण सोनी ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि इंदौर में जहरीली से शराब से कोई मौत नही हुई है। उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया में इंदौर जहरीली शराब से मृत्यु की खबर सही नही है। वहीं पुलिस पूरे मामले की जांच की जा रही है और पार्टी में शामिल सभी लोगो की हिस्ट्री खंगाली जा रही है इसके अलावा आबकारी विभाग को मृतकों की पीएम रिपोर्ट का इंतजार है। फिलहाल, इस मामले में अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा क्योंकि पूरे मामले में शराब जहरीली थी या नही इस पर जांच टिक गई है लिहाजा, अब जांच के बाद ही सबकुछ साफ हो पायेगा।

यह भी पढ़ें… इंदौर-मंदसौर शराब कांड पर बोले लक्ष्मण सिंह, कहा -मप्र में राजस्थान की तर्ज पर बनाई जाए शराब नीति