जब दिवाली पर जीतू से मिले जीतू, गले मिलकर दी बधाई

जिराती रविवार को जीतू पटवारी से मिलने पहुंचे| दोनों की यह मुलाक़ात चर्चा का विषय बनी हुई है

इंदौर, आकाश धोलपुरे| कहा जाता है कि राजनीति में कोई किसी का स्थाई दोस्त या दुश्मन नहीं होता| कभी एक दूसरे के हितेषी माने जाने वाले नेता उन्हें ही कोसते नजर आते हैं, तो कभी मंच से एक दूसरे पर वार करने वाले नेता एक दूसरे के गले मिलकर सबको चौंका देते हैं| मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) में ऐसी तस्वीरें अक्सर देखने को मिल जाती है| ऐसा ही एक नजारा रविवार को इंदौर (Indore) में देखने को मिला, जब राजनीति में एक दूसरे के धुर विरोधी नेता पूर्व मंत्री जीतू पटवारी (Jitu Patwari) और जीतू जिराती (Jitu Jirati) दिवाली (Diwali) पर एक दूसरे के गले मिले और मिठाई खिलाकर दिवाली की शुभकामनाएं दी|

दिवाली के मौके पर कांग्रेस के पूर्व मंत्री जीतू पटवारी और भाजपा के पूर्व विधायक जीतू जिराती की मुलाकात चर्चा में है| दोनों जीतू राऊ विधानसभा सीट से ही चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं। जिराती रविवार को जीतू पटवारी से मिलने पहुंचे| इस दौरान दोनों गले मिले और एक दूसरे को मिठाई खिलाई|

इस दौरान पूर्व विधायक जिराती ने कहा कि राजनीति में मूल्यों की गिरावट देखने काे मिल रही है। जिस प्रकार से शब्दों और भाषाओं का प्रयोग किया जा रहा है। यह समाज में सही संदेश नहीं है। उन्होंने जीतू पटवारी को लेकर कहा कि वे मेरे मित्र हैं।