उपचुनाव से पहले कैलाश का बड़ा बयान-”सभी विधायकों का मंत्री बनना संभव नहीं”

कैलाश विजयवर्गीय

भोपाल।

मध्यप्रदेश(madhyapradesh) में कोरोना(corona) संकटकाल और उपचुनाव(by-election) के बीच आज बीजेपी(bjp) के कई दिग्गज नेताओं की बीजेपी कार्यालय में बैठक चल रही है। जहाँ कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा चल रही। इस बैठक में हिस्सा लेने कार्यालय पहुंचे कैलाश विजयवर्गीय(kailash vijayvargiya) ने कहा कि पार्टी के सभी विधायकों(mlas) का मंत्री(minister) बनना संभव नहीं इस पर क्षेत्र, जाति सभी को आधार बना कर निर्णय लिया जायेगा।

दरअसल मंगलवार को बीजेपी कायार्लय पहुंचे कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि मंत्रिमंडल(cabinet) विस्तार की बात पर उन्होंने कहा कि पार्टी में बहुत ही वरिष्ठ विधायक हैं। लेकिन सबका मंत्री बनना संभव नहीं है। इसलिए पार्टी विचार करके ही निर्णय लेगी। बता दें कि बीजेपी दिग्गज के इस बैठक में बी डी शर्मा(V.D.Sharma) भी मौजूद रहें इस बैठक में प्रदेश के विभन्न मुद्दों पर संगठन महामंत्री सुहास भगत(suhas bhagat) से चर्चा हो रही है।

भारत को “भारत” कहते के समर्थन में हम

वहीँ भारत को इंडिया नहीं बल्कि भारत कहे जाने के मांग पर कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि अपना सैद्धांतिक मांग कर रहा है। भारत का नाम भारत ही होना चाहिए। उन्होंने कहा कि भले इस मांग में हिंदुस्तान में देरी हुई लेकिन ये मांग जायज़ है। बता दें कि पुरे देश में कोरोना संकट के बीच पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की गई थी। जिसमें यह मांग की गई कि देश को इंडिया नहीं बल्कि भारत या हिन्दुस्तान के नाम से संबोधित किया जाए। इसके लिए सरकार को संविधान में संशोधन करने का निर्देश दिया जाए। जिसपर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई टल गयी।

कांग्रेस के डैमेज के कण्ट्रोल में बीजेपी

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए विजयवर्गीय ने कहा कि कांग्रेस ने हर वर्ग को छला है। किसान, युवा हर वर्ग छले गए। जिसके चलते अब उपचुनाव में कांग्रेस सभी सीट हारेगी। बीजेपी में डैमेज कंट्रोल हो रही है। इसलिए उपचुनाव को लेकर बीजेपी कि तैयारी पूरी है।

जोशी से नाराजगी नहीं

वहीं दीपक जोशी के नाराज होने को लेकर कहा कि वो नाराज नही हैं। उनके पिता एक सम्मानीय व्यक्तित्व थे। उनका एक अलग नाम है। हर इंसान की व्यक्तिगत सोच होती है। उनकी भी होगी इसलिए उनसे कैसी नाराजगी।