Twitter पर जमकर ट्रोल हुए ”महाराज”

भोपाल।

कांग्रेस को छोड़कर बीजेपी का दामन थामने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया इन दिनों ट्विटर पर जमकर ट्रोल हो रहे हैं। सिंधिया जैसे ही ट्विटर पर कोई पोस्ट करते हैं, एक के बाद एक करके लोग उसकी आलोचना करने लगते हैं।

सोमवार को सिंधिया ने अपना एक पोस्टर तिलक लगे और भगवा गमछा डाले हुए जलियांवाला बाग नरसंहार की शहीदों को नमन करते हुए डाला ।सिन्धिया ने उसमें लिखा कि “अपने प्राणों की आहुति देकर भारत की स्वतंत्रता का मार्ग प्रशस्त करने वाले जलियांवाला बाग के अमर शहीदों को मेरा कोटि-कोटि नमन।” बस फिर क्या था, सिंधिया की आलोचना की मानो लाइन लग गई ।

किसी ने लिखा कि सुना है रानी लक्ष्मीबाई की हार का कारण सिंधिया ही थे, क्या यह सत्य है? तो किसी ने सवाल खड़ा कर दिया कि मुखबिरी किसने की यह भी बताओ महाराज ।किसी ने व्यंग्य करते हुए कहा कि कमल खिल रहा है आप पर तो किसी ने पहले वाले तिरंगे को बेहतर बता दिया ।एक आलोचक ने तो जालियांवाला बाग हत्याकांड तक के लिए सिंधिया के पूर्वजों को दोषी ठहरा दिया। यह पहला मौका नहीं जब सिंधिया ट्विटर पर ट्रोल हुए हो। आमतौर पर कांग्रेस में रहते हुए सिंधिया अच्छी खासी लोकप्रियता पाए जाने वाले नेता थे लेकिन जब से उन्होंने बीजेपी ज्वाइन की है सोशल मीडिया पर उनके आलोचकों की संख्या अधिक बढ़ गई है।