MP Board: गुरुवार को जारी होंगे 12वीं के परीक्षा परिणाम, इन बातों का रखना होगा ध्यान

छात्रों के पास MPBSE मोबाइल ऐप पर अपना परिणाम देखने का विकल्प भी है। जिसे Google Playstore से डाउनलोड किया जा सकता है।

MP-BOARD-RESUT-2019-10TH-12TH-RESULT-RELEASED

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश MP Board कक्षा 12वीं के परिणाम मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (MPBSE ) द्वारा 29 जुलाई को दोपहर 12 बजे घोषित किए जाएंगे। एक बार 12वीं के परिणाम घोषित होने के बाद पंजीकृत उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट mpbse.nic.in या mpresults.nic.in पर जाकर अपने स्कोरकार्ड (scorecard) डाउनलोड कर सकते हैं। दरअसल राज्य के स्कूल शिक्षा विभाग (school educcation department) ने ट्विटर (twitter) पर 12वीं कक्षा के परिणाम की तारीख और समय की घोषणा की थी।

स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार गुरुवार को दोपहर 12 बजे कक्षा 12वीं के परीक्षा परिणाम जारी करेंगे। वे माध्यमिक शिक्षा मंडल में सिंगल क्लिक से हायर सेकेण्डरी, हायर सेकेण्डरी व्यवसायिक सर्टिफिकेट परीक्षा और हायर सेकेण्डरी (अंध, मूक, बधिर) श्रेणी के परीक्षा परिणाम जारी करेंगे।

रिजल्ट जारी होने के बाद छात्र MPBSE की वेबसाइट पर कक्षा 12वीं के स्कोरकार्ड के लिए इन सरल स्टेप्स का पालन कर सकते हैं:

Step 1: आधिकारिक वेबसाइट mpresults.nic.in पर जाएं

Step 2: होमपेज पर उपलब्ध ‘MPBSE कक्षा 12 परिणाम 2021’ लिंक पर क्लिक करें

Step 3: नए पृष्ठ पर, आवश्यक विवरण जैसे रोल नंबर, पंजीकरण संख्या आदि दर्ज करें और लॉग इन करें

Step 4: आपका मध्य प्रदेश कक्षा 12 का परिणाम स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा। इसे जाँचे

Step 5: MPBSE स्कोरकार्ड डाउनलोड करें। यदि आवश्यक हो तो भविष्य में उपयोग के लिए एक प्रिंटआउट लें

Read More: भीषण हादसा: तेज रफ्तार ट्रक ने बस को मारी टक्कर, 18 की दर्दनाक मौत, वीडी शर्मा ने जताया शोक

उम्मीदवार अपना परिणाम इन वेबसाइटों पर देख सकते हैं:

  • mpresults.nic.in
  • mpbse.mponline.gov.in
  • mpbse.nic.in

छात्रों के पास MPBSE मोबाइल ऐप पर अपना परिणाम देखने का विकल्प भी है। जिसे Google Playstore से डाउनलोड किया जा सकता है।

वैकल्पिक मूल्यांकन के आधार पर जारी किए जाएंगे स्कोरकार्ड 

इस साल राज्य सरकार ने दूसरी corona लहर के कारण कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षाओं को रद्द कर दिया था। हालांकि वैकल्पिक मूल्यांकन के आधार पर स्कोरकार्ड जारी किए जाएंगे। मूल्यांकन मानदंड के अनुसार परिणाम की गणना कक्षा 10 के सर्वश्रेष्ठ पांच विषयों में छात्रों के प्रदर्शन के आधार पर की गई है। वहीँ जो छात्र अपने परिणामों से असंतुष्ट नहीं होंगे वो सितंबर के महीने में राज्य बोर्ड द्वारा आयोजित की जाने वाली ऑफलाइन परीक्षाओं में शामिल होकर अपने स्कोर में सुधार कर सकते हैं।

पहले MP Board कक्षा 12 की परीक्षाएं 30 अप्रैल से शुरू होनी थीं, लेकिन महामारी के कारण परीक्षाएं स्थगित कर दी गईं। जिसके बाद अधिकारियों ने जुलाई के महीने में ऑफलाइन मोड में परीक्षा आयोजित करने के तरीकों पर चर्चा की थी। हालांकि कोरोना की दूसरी लहर के कारण परीक्षाएं रद्द कर दी गईं। जबकि कोरोना की पहली लहर के दौरान MP Board कक्षा 12 के छात्रों के लिए सभी परीक्षाएं आयोजित करने में कामयाब रहा और परीक्षाओं के आधार पर परिणाम तैयार किया था

पिछले साल MP Board हायर सेकेंडरी की परीक्षा में करीब 8 लाख छात्र शामिल हुए थे, जिनमें से 68.81 फीसदी पास हुए थे। करीब 8 लाख छात्रों में से 68.81 फीसदी पास हुए थे। 2019 में पास प्रतिशत 72.37 प्रतिशत था। ज्ञात हो की 2020 में कुल 2,85,754 छात्रों ने प्रथम श्रेणी या 60% और उससे अधिक अंक प्राप्त किए थे जबकि 2019 में, 2.63 लाख छात्रों को प्रथम श्रेणी में जगह मिली थी। इसी तरह 2020 में MP Board में हायर सेकेंडरी 1.82 लाख को सेकेंड डिवीजन और 2019 में 1.75 लाख बच्चों को सेकंड डिवीज़न प्राप्त हुए थे। पिछले साल एमपी बोर्ड ने 30 साल में पहली बार 10वीं और 12वीं के नतीजे अलग-अलग घोषित किए थे। वहीँ इस साल भी करीब 8 लाख छात्रों के रिजल्ट आने की उम्मीद है। MPBSE  एक ही समय में वाणिज्य, विज्ञान और कला के लिए परिणाम घोषित करेगा।