MP: स्वास्थ्य मंत्री की लोगों से अपील, कोरोना पीड़ितों के साथ ना करें अपराधियों जैसा व्यवहार

उज्जैन। योगेश कुल्मी।

कोरोना संकट के बीच मध्यप्रदेश में तेजी से फैल रहे संक्रमण में धीरे धीरे स्थिरता अा रही है। स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा स्वयं ही मामले का संज्ञान ले रहे हैं। वो लगातार अस्पताल में मरीजों से मिलकर उनका हाल-चाल पूछ रहे हैं और साथ ही कोरोना योद्धा का हौसला बढ़ा रहे हैं। इसी बीच मीडिया से बात करते हुए उन्होंने आम जनों से अपील की है कि वह कोरोना मरीजों के साथ आत्मीयता का व्यवहार करें।उनकी तरफ अपराधियों वाली नजर से न देखें।

दरअसल आज उज्जैन में कोविड सेंटर अस्पताल के बाहर मीडिया से बात करते हुए स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा की कोरोना प्रभावित मरीजों के साथ लोगों को अपना रवैया सही रखना चाहिए। कोरोना से पीड़ित लोग किसी भी तरह के अपराधी नहीं है। यह महज एक बीमारी है जो ठीक हो रही है। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि मरीजों के बीच उनके आने का मूल उद्देश्य यह है ताकि लोग कुरौना पीड़ित लोगों के साथ सही एवं आत्मीय व्यवहार करें। स्वास्थ्य मंत्री मिश्रा ने यह भी कहा कि कोरोना से बचाव के लिए सावधानी की जरूरत है। लोग सावधानी अपनाएं। लेकिन साथ ही साथ रिश्तो को भी महत्व दें। इसी के साथ स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कोविड सेंटर अस्पताल में कर्मचारियों के भी हौसला अफजाई की। उन्होंने कर्मचारियों के भी हालचाल पूछे एवं उनकी तारीफ की।

बता दे कि प्रदेश में कोरोना के मामले धीरे-धीरे काबू में आ रहे हैं। वहीं प्रदेश में कोरोना से रिकवरी रेट राजस्थान के बाद सबसे ज्यादा है। वहीँ प्रदेश में ग्रोथ रेट एक प्रतिशत है जो सबसे कम है। वहीँ उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं में लगातार सुधार हो रहा है। पॉजिटिव केस से ठीक होने वालो की संख्या ज़्यादा हो रही है। प्रदेश में हर दिन 6 से 7 हज़ार टेस्टिंग की जा रही है। वहीँ स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम ने कहा कि प्रदेश तेजी से कोरोना से लड़ रहा है जल्द ही हम इसमें सुधार करेंगे।