teacher

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश शिक्षक भर्ती (MP Teacher Recruitment) के 30,000 युवाओं की नियुक्ति (Recruitment) जल्द होने वाली है। दरअसल उच्च माध्यमिक-माध्यमिक शिक्षकों (Higher Secondary-Secondary Teachers) की सीधी भर्ती (Direct recruitment) के लिए सत्यापन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। हालांकि इस मामले में कई तरह के विसंगतियों का सामना करना पड़ रहा है। जिसमें कई उच्च माध्यमिक और माध्यमिक शिक्षक अभ्यर्थी के दावे अस्वीकार किए जा रहे हैं।

इसी बीच अब शिक्षकों के सत्यापन प्रक्रिया पर स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार (indar singh parmar) का बड़ा बयान सामने आया है। शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने ट्वीट करते हुए कहा है कि एमपी ऑनलाइन MP Online द्वारा अभ्यर्थियों को मोबाइल नंबर पर SMS के जरिए सूचना दी जा रही है। इसके अलावा एमपी ऑनलाइन पोर्टल पर अभ्यर्थियों की सूची भी प्रदर्शित कर दी गई है।

Read More: UPPSC 2021: युवाओं के लिए बड़ा मौका, इन पदों पर निकली वैकेंसी, जाने डिटेल्स

साथ ही मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा कि यदि माध्यमिक शिक्षक पद के अभ्यर्थी 23 जून 2021 तक दस्तावेज सत्यापन नहीं कराते हैं तो उनकी अभ्यर्थिता निरस्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी। मध्यप्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए 20 मई को दस्तावेजों के सत्यापन की प्रक्रिया स्थगित कर दी गई थी। जिसे 7 जून से दोबारा शुरू किया गया था।

गौरतलब हो कि शिक्षक भर्ती प्रक्रिया का परीक्षा का नोटिफिकेशन 2018 में जारी किया गया था। जिसके लिए 2019 में परीक्षा का आयोजन हुआ था। उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए परिणाम अगस्त जबकि माध्यमिक शिक्षा के लिए परिणाम अक्टूबर में जारी किए गए थे। हालांकि 2 साल के बाद अभी तक अभ्यर्थी शिक्षक भर्ती का इंतजार कर रहे हैं।