नरोत्तम मिश्रा का पलटवार- कांग्रेस कर रही डर्टी पॉलिटिक्स, काम से कम विपदा में निष्पक्षता से बोलें

कमलनाथ के ट्वीट पर पलटवार करते हुए गृहमंत्री डॉ मिश्र बोले कि मैं उनके ट्वीट का जवाब क्या दूं। वरिष्ठ नेता है।  लेकिन पता नहीं उनकी बुद्धि को क्या हो गया है।  आपदा में सिर्फ कमियां ढूंढते हैं।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्र (narottam mishra)  ने मंत्री तुलसी सिलावट (tulsi silawat) के ड्राइवर के पकड़े जाने पर विपक्ष को करारा जवाब देते हुए कहा कि कांग्रेस (congress) को आपदा और विपदा के समय तो कम से कम निष्पक्षता से बोलना चाहिए। कांग्रेस डर्टी पॉलिटिक्स (dirty politics) कर रही है। आकाश पाराशर के मामले में चुप और तुलसी सिलावट के मामले में मुखर।

कांग्रेस पर पलटवार करते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि राजनीतिक द्वेष को हटाकर समग्र बात कीजिए पराशर पर भी कार्रवाई की मांग कीजिए और रही बात ड्राइवर की तो पहली बात व तुलसी सिलावट का ड्राइवर नहीं अपितु ट्रेवल एजेंसी का ड्राइवर था और सिलावट ने स्वयं कहा है कि सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। दरअसल कांग्रेस उनके दिए घाव को भुला नहीं पा रही है। सरकार दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी अपराधी चाहे कोई भी हो।

Read More: कोरोना के बाद ब्लैक फंगस बना चुनौती, लक्षण-जरूरी कदम को लेकर AIIMS की गाइडलाइन जारी

कमलनाथ के ट्वीट पर पलटवार करते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र बोले कि मैं उनके ट्वीट का जवाब क्या दूं। वरिष्ठ नेता है।  लेकिन पता नहीं उनकी बुद्धि को क्या हो गया है।  आपदा में सिर्फ कमियां ढूंढते हैं। धरातल से गायब कांग्रेसी सिर्फ सोशल मीडिया तक सीमित हुए। डॉ मिश्र बोले मै 18+ युवाओं से अनुरोध है कि स्लॉट बुक करने के बाद वैक्सीनेशन अवश्य कराएं।  ताकि वैक्सीन के डोज व्यर्थ बर्बाद ना हो। कमलनाथ जी वरिष्ठ नेता हैं।  उनसे भी अनुरोध है कि वह युवाओं को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करें।

कांग्रेस के महामारी में अव्यवस्थाओं के लिए काले झंडे लगाने वाली बात पर पलटवार करते हुए बोले मध्य प्रदेश के गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्र कांग्रेसियों के कहने से कोई भी काले झंडे नहीं लगाएगा। वह दुर्रभावनाओं से प्रेरित है।  वह खुद लगा ले तो ठीक है। उमंग सिंगार के बारे में हमसे ज्यादा अच्छे से कांग्रेसी बता देंगे। नरोत्तम मिश्र बोले कि हमसे ज्यादा उमंग सिंगार को कांग्रेसी बेहतर जानते हैं। कई बड़े काग्रेंस नेता अधिकारियों के संपर्क में है और उमंग सिंगार के बारे में काफी कुछ बता चुके हैं। काला झंडा इस बात के लिए कांग्रेसी खुद लगा ले तो ठीक होगा।