अब होशंगाबाद का नाम होगा नर्मदापुरम, सीएम शिवराज का ऐलान

होशंगाबाद, राहुल अग्रवाल। होशंगाबाद जिले (Hoshangabad) का नाम अब से नर्मदापुरम (Narmadapuram) होगा। इसकी घोषणा सीएम शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chouhan) ने नर्मदा महोत्सव के दौरान की। शुक्रवार को होशंगाबाद नर्मदा महोत्सव में शामिल होने पहुंचे सीएम ने कहा कि जल्द ही केंद्र को होशंगाबाद का नाम बदलने के लिए प्रस्ताव भेजा जाएगा।

होशंगाबाद जिले का नाम बदलकर होगा नर्मदापुरम
शुक्रवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने वो घोषणा कर ही दी जिसकी मांग लंबे समय से बीजेपी नेता करते आ रहे थे। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर और प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा काफी समय से होशंगाबाद का नाम नर्मदापुरम किए जाने की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि आखिर कब तक लुटेरे हुशंगशाह के नाम से होशंगाबाद को पहचाना जाता रहेगा। होशंगाबाद की पहचान मां नर्मदा से हैं और उसका नाम इसी आधार पर रखा जाना चाहिए। शुक्रवार को नर्मदा महोत्सव में पत्नी साधना सिंह के साथ शामिल होने पहुंचे सीएम शिवराज ने इस मांग को स्वीकार करते हुए घोषणा की कि अबसे होशंगाबाद जिले का नाम नर्मदापुरम होगा। बता दें कि इन दिनों प्रदेश में बीजेपी द्वारा स्थानों के नाम बदलने की राजनीति जमकर हो रही है। होशंगाबाद के अलावा राजधानी का ईदगाह हिल्स, इकबाल मैदान, हबीबगंज स्टेशन के नाम बदलने की मांग भी बीजेपी के कई नेताओं द्वारा लगातार उठाई जा रही है।

ये भी पढ़िये – Hoshangabad- नर्मदा जयंती महोत्सव, सीएम शिवराज ने पत्नी के साथ किया पूजन

प्राकृतिक रूप से किया जाएगा नर्मदा तट पर बसे नगरों का विकास
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस अवसर पर कहा कि पुण्य सलिला माँ नर्मदा के तटों तथा उनके तट पर बसे नगरों का विकास प्राकृतिक रूप से किया जाएगा। वहाँ हम सीमेंट कांक्रीट के जंगल नहीं बनने देंगे। साथ ही नर्मदा जल की स्वच्छता का पूरा ध्यान रखा जाएगा और होशंगाबाद जिले का नाम अब नर्मदापुरम होगा।

जिला अस्पताल बनेगा सुपर स्पेशलिटी अस्पताल
इस दौरान मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि जिला अस्पताल होशंगाबाद का उन्नयनीकरण कर इसे सुपर स्पेशलिटी अस्पताल बनाया जाएगा। दशहरा मैदान का भी विकास किया जाएगा। नगर में ऑडिटोरियम भी बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री नगर पालिका को निर्देश दिए है कि होशंगाबाद नगर का लंबित सीवेज ट्रीटमेंट प्रोजेक्ट का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए। नर्मदा जल में गंदा पानी नहीं मिलना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने पुलिस अधीक्षक होशंगाबाद को सख्त निर्देश दिये कि गुंडे बदमाशों, खनिज माफियाओं के विरुद्ध कार्यवाही करें, नहीं तो मैं आपके विरुद्ध कार्रवाई करूंगा। उन्होंने कहा कि चिटफंड कंपनियों के विरूद्ध एफ.आई.आर. दर्ज करना पर्याप्त नहीं है, उनकी संपत्ति नीलाम की जाए। बेटियों के विरुद्ध अपराध करने वालों को कठोरतम सजा दी जाए।