जहरीली शराब ने ली तीन और जान, अब तक 24 की मौत, भोपाल से जांच टीम पहुंची

भोपाल से विशेष जांच दल (SIT) मुरैना पहुंचा और पीड़ित परिवारों, अस्पताल में भर्ती मरीजों के अलावा पूर्व कलेक्टर व पूर्व पुलिस अधीक्षक से भी पूछताछ की।

मुरैना, संजय दीक्षित| मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) के मुरैना (Morena) जिले में जहरीली शराब पीने से मौतों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है| गुरुवार को भी 3 लोगों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। जहरीली शराब (poisonous alcohol) पीकर मरने वालों की संख्या अब 24 पर पहुंच गई है। इधर, भोपाल से विशेष जांच दल (SIT) मुरैना पहुंचा और पीड़ित परिवारों, अस्पताल में भर्ती मरीजों के अलावा पूर्व कलेक्टर व पूर्व पुलिस अधीक्षक से भी पूछताछ की।

जानकारी के मुताबिक, गुरुवार को रमेश बाल्मीकि (40), कैलाश (60) पुत्र रामसहाय और भाजपा के मंडल अध्यक्ष राजपाल किरार के बड़े भाई पंजाब सिंह किरार (60) निवासी छैरा मानपुर की मौत हुई। भोपाल से जांच दल भी मुरैना पहुंचा| गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. राजेश राजौरा ने जाँच टीम के साथ प्रभावित गाँव का दौरा किया| एडीजीपी पुलिस मुख्यालय ए सांई मनोहर और उप पुलिस महानिरीक्षक (ट्रेनिंग) मिथलेश शुक्ला के साथ टीम ने करीब एक घंटे तक मुरैना रेस्ट हाउस में हटाए गए कलेक्टर अनुराग वर्मा व एसपी अनुराग सुजानिया से पूछताछ की। टीम ने मानपुर गांव का निरीक्षण कर लोगों से बात की।

जहरीली शराब पीने से बीते चार दिन में 24 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा अभी कई लोग जिला अस्पताल में इलाज करा रहे हैं। घटना से भोपाल से लेकर दिल्ली तक हडकंप मचा हुआ है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कलेक्टर अनुराग वर्मा और एसपी अनुराग सुजानिया को हटा दिया है। कुछ अन्य अधिकारियों और कर्मचारियों पर गाज गिर चुकी है| जांच टीम की रिपोर्ट के बाद बड़ी कार्रवाई की उम्मीद की जा रही है|