ABVP के पूर्व महानगर मंत्री पर दर्ज हुआ बलात्कार का मामला, प्रेस नोट जारी कर संगठन ने किया किनारा

शुभांग गोटिया पर महिला थाने में रेप का अपराध दर्ज होने के बाद abvp ने प्रेस नोट जारी कर सफाई दी है।

abvp-sideline-after-allegation-on-leaders

जबलपुर, संदीप कुमार। कभी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) का झंडा थामकर प्रदर्शन करने वाले पूर्व महानगर मंत्री शुभांग गोटिया (shubhang gotiya) पर बलात्कार (rape) का मामला दर्ज होते ही संगठन (organisation) ने उससे रिश्ता तोड़ दिया है। शुभांग गोटिया पर महिला थाने में रेप का अपराध दर्ज होने के बाद abvp ने प्रेस नोट जारी कर सफाई दी है।

यह भी पढ़ें… MP School: 1 जुलाई से प्रदेश में खुलेंगे स्कूल! इन फॉर्मूले पर बनेगी सहमति

2019 में अलग हो गए थे संगठन से शुभांग
दरअसल पूर्व महानगर मंत्री शुभांग गोटिया के खिलाफ कल एक युवती ने महिला थाने में शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने की शिकायत दर्ज करवाई थी। शुभांग गोटियां के खिलाफ धारा 376 के तहत मामला दर्ज होते ही अखिल भारतीय विद्यर्थि परिषद ने सुभाँग से किनारा कर लिया।

हमारा उससे कोई लेना देना नही है
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की प्रदेश महामंत्री सुमन यादव ने एक प्रेस नोट जारी कर कहा है कि शुभांग गोटिया विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता के रूप में कार्य करते थे और उन्हें जबलपुर महानगर मंत्री का दायित्व मिला था पर 2019 में अपने निजी व्यवसाय की व्यवस्था के कारण परिषद कार्य से दूर हो गए पिछले 2 वर्षों से शुभांग गोटिया का अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद संगठन से किसी प्रकार का संबंध नहीं है।

यह भी पढ़ें… MP News: शिवराज सरकार की गरीबों के लिए बड़ी योजना, इस तिथि को बांटा जाएगा मुफ्त राशन

समाज में हुए कृत्य अपराध का संगठन करती है निंदा
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की प्रदेश मंत्री सुमन यादव ने कहा है कि शुभांग गोटिया ने जो अपराध किया है वह समाज के लिए निंदनीय कृत्य है, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद इस मामले में पुलिस प्रशासन से उच्च स्तरीय जांच की मांग करता है एवं जो भी कसूरवार होता है उस पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की मांग भी करता है।