CM शिवराज पर सलूजा का तंज- कमलनाथ की तरह सरकारी अस्पताल में करवाते अपना इलाज

भोपाल।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Madhya Pradesh Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव(Corona report positive) आने के साथ ही प्रदेश की सियासत गरमा गई है। प्रदेश में जहां नेता उनके स्वास्थ्य लाभ की कामना कर रहे हैं वहीं दूसरी तरफ विपक्षी(opposition) उन पर तंज कसने से भी बाज नहीं आ रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ(Former Chief Minister Kamal Nath), राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह(Rajya Sabha MP Digvijay Singh) और विवेक तंखा(Vivek Tankha) के बाद अब नरेंद्र सलूजा(Narendra Saluja) ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को लेकर बड़ा बयान दिया है। कांग्रेस नेता सलूजा का कहना है कि यदि प्रदेश के मुख्यमंत्री चिरायु अस्पताल (chirayu hospital) की जगह एम्स(AIIMS) या हमीदिया(hamidia) में इलाज करवाते तो वह एक उदाहरण पेश कर सकते थे।

दरअसल नरेंद्र सलूजा ने शनिवार को अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा कि मैं शिवराज सिंह चौहान के शीघ्र स्वास्थ्य की कामना करता हूं। लेकिन यदि प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान भोपाल के सरकारी अस्पतालों में आम आदमी की तरह भर्ती होकर अपना इलाज कराते तो यह प्रदेश में एक मिसाल की तरह पेश किया जाता। वहीं नरेंद्र सलूजा ने यह भी कहा है कि मुख्यमंत्री रहते हुए कमलनाथ ने हमीदिया अस्पताल में ही अपनी सर्जरी करवाकर ऐसे उदाहरण पेश किए थे। वहीँ सलूजा ने ये भी कहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज के कोरोना संक्रमित निकलने के बाद प्रदेश की जनता की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उनके मंत्रिमंडल के सभी सदस्यों को तत्काल अपनी जाँच करवाकर क्वारेंटाइन होना चाहिये। क्योंकि इन मंत्रियों से पिछले कुछ दिनो से शिवराज जी लगातार वन-टू-वन मीटिंग कर रहे थे

हालांकि सलूजा पहले ऐसे नेता नहीं है जिन्होंने मुख्यमंत्री के रिपोर्ट संक्रमित आने के बाद उन पर तंज मारा है। इससे पहले दिग्विजय सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए कहा था कि प्रदेश के और नेताओं पर सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन के बाद एफआईआर दर्ज किया जा सकता है। किंतु शिवराज सिंह चौहान के साथ यह नियम लागू नहीं होता। बता दे कि सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह पर एफआईआर दर्ज किया गया था। वहीँ पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी ट्वीट करते हुए शिवराज सिंह चौहान पर निशाना बनाया है। कमलनाथ ने लिखा है कि जब प्रदेश में हम लगातार संक्रमण के खतरे से लोगों को आगाह कर रहे थे तो शिवराज सिंह चौहान इसे हमारा राजनीतिक हथियार, डरोना जैसी दलीलें देकर हमारा मजाक बना रहे थे। अगर उस समय उन्होंने इस संक्रमण की गंभीरता को समझा होता तो आज वह इसके चपेट में नहीं आते।

बता दे कि बीजेपी नेता अरविंद भदौरिया की रिपोर्ट कोरोना संक्रमित आने के बाद शनिवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। मुख्यमंत्री में कोरोना के लक्षण नजर आने के बाद उनके सैंपल जांच किए गए थे जिसमें वह संक्रमित पाए गए हैं। जिसके बाद उन्हें जिले के चिरायु अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शिवराज सिंह चौहान की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद विपक्ष लगातार बीजेपी नेता एवं उनकी रैलियों को लेकर हमलावर बनी हुई है।