Modi Cabinet Expansion

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। राज्य में चुनावी अटकलों (election speculation) के बीच राज्यसभा सांसद और बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) ने रेल मंत्री (rail minister) को पत्र लिखा है दरअसल रेल मंत्री को लिखे अपने पत्र में बीजेपी सांसद सिंधिया ने ग्वालियर-श्योपुर रेल खंड (Gwalior-Sheopur Rail Section) के लिए बड़ी मांग की है। इससे पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सीएम शिवराज  (CM shivraj) को पत्र लिखकर ग्वालियर में नए मेडिकल कॉलेज की बात कही थी।

दरअसल ग्वालियर के दिग्गज नेता और बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल (piyush goyal) को पत्र लिखकर ग्वालियर श्योपुर नेरोगेट रेलखंड के बजट (budget) की बाधा को दूर करने की मांग की है। अपने लिखे पत्र में सिंधिया ने कहा कि यह रेलखंड ग्वालियर और श्योपुर सहित बीच में पड़ने वाले 24 स्टेशन के लाखों लोग की जीवन रेखा (lifeline) है। इसलिए इसे जल्द से जल्द पूरा करने के लिए बजट की बाधा को समाप्त किया जाए।

अपने लिखे पत्र में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रेल मंत्री पीयूष गोयल से कहा है कि ग्वालियर श्योपुर रेल खंड नैरोगेज रेलखंड था, जिसे ब्रॉडगेज के रूप में परिवर्तित करने की स्वीकृति रेल मंत्रालय द्वारा दी गई थी। इसके लिए टेंडर (tender) भी जारी किए जा चुके हैं। वही इस प्रोजेक्ट में 3000 करोड़ रूपए से अधिक की लागत का अनुमान लगाया गया है।

Read More: नगरीय निकाय चुनाव: जानिए कब होंगे मप्र में नगरीय निकाय के चुनाव, यह है बड़ी अड़चन

जबकि इस परियोजना के लिए केंद्र सरकार द्वारा मध्य प्रदेश को महज 25 करोड़ रूपए जारी किए गए हैं। जिससे कार्य पूरा नहीं हो पाया है। वही Corona और ब्रॉडगेज कन्वर्जन की वजह से मार्च 2020 से इस लाइन पर ट्रेनों का परिचालन बंद है। जिससे यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वही ग्वालियर और श्योपुर के लोगों का हवाला देते हुए बीजेपी सांसद सिंधिया ने रेल मंत्री से बजट की बाधा को दूर करने की बात कही है। सिंधिया ने कहा कि कार्य को तेजी से चलाने के लिए इन बाधाओं को दूर करना आवश्यक है।

बता दे कि ग्वालियर-श्योपुर रेल लाइन कन्वर्जन 10 बड़े पुल और 100 से अधिक छोटे पुल का निर्माण किया जाना है। इसके साथ ही साथ 24 स्टेशन पर भी निर्माण कार्य को बढ़ाना है। जिस पर अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रेल मंत्री पीयूष गोयल का ध्यान आकर्षित करने की कोशिश की है।