कमलनाथ के बयान पर शिवराज का एलान, दो घंटे करेंगे मौन व्रत

कमलनाथ के आइटम वाले बयान पर मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि धिक्कार है कमलनाथ पर जो एक महिला और दलित बेटी के लिए ऐसे घटिया शब्दों का इस्तेमाल करते हैं, कमलनाथ याद रखें कि ये वो देश है जहाँ द्रोपदी के अपमान पर महाभारत हो गई थी

ग्वालियर, अतुल सक्सेना| प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ (Kamalnath) ने भाजपा प्रत्याशी एवं प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी (Imarti Devi) को आइटम कहकर एक बड़ा चुनावी मुद्दा दे दिया है। भाजपा इसे प्रदेश की महिलाओं और दलित बेटी के अपमान कहकर कमलनाथ पर चौतरफा हमलावर हो गई है । प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh CHauhan) ने कहा कि धिक्कार है कमलनाथ पर जो एक महिला और दलित बेटी के लिए ऐसे घटिया शब्दों का इस्तेमाल करते हैं। कमलनाथ याद रखें कि ये वो देश है जहाँ द्रोपदी के अपमान पर महाभारत हो गई थी। प्रदेश की जनता आपको माफ नहीं करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद का भी अपमान किया है पता नहीं वो प्रायश्चित करेंगे कि नहीं, इसलिए मैं करूँगा। सीएम शिवराज भोपाल में 2 घंटे का मौन व्रत करेंगे।

पिछले कुछ दिनों से भाषाई प्रदूषित हुई मध्यप्रदेश की सियासत में रविवार को डबरा में एक नया शब्द जुड़ गया। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पार्टी प्रत्याशी सुरेश राजे के समर्थन में आयोजित सभा में भाजपा प्रत्याशी एवं महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी को आइटम कह दिया। पूर्व मुख्यमंत्री के एक दलित महिला के लिए कहे गए अमर्यादित बोल को भाजपा ने अब चुनावी मुद्दा बना लिया है। ग्वालियर पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसे मध्यप्रदेश की बेटियों और बहनो का अपमान कहा। ग्वालियर विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी एवं प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के समर्थन में आयोजित सभा में उन्होंने कमलनाथ और कांग्रेस पर जमकर हमले किये। उन्होंने कहा कि जिस तरह की भाषा कांग्रेस बोल रही है वो उसकी मानसिकता को बताता है उनके बयान ये बताते है कि उसके नेता महिलाओं का कितना सम्मान करते हैं।

मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कमलनाथ ने जो शब्द कह वो केवल इमरती देवी का अपमान नहीं है वो मध्यप्रदेश की बहन और बेटियों का अपमान है। पता नहीं कांग्रेस को क्या हो गया है। कमलनाथ भी मुख्यमंत्री रहे हैं जिस बेटी बरसों तक कांग्रेस की सेवा की उनके बारे में आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग कर रहे हैं। क्या गरीब की बेटी का अपमान किया जायेगा, क्या बहनों और बेटियों का सम्मान नहीं है। क्या उनके सम्मान को पैरो तले कुचला जायेगा? कमलनाथ जी ये सोच ले कि ये वो देश है जहाँ द्रोपदी के अपमान पर महाभारत हो गई थी। ये अपमान मध्यप्रदेश की जनता सहन नहीं करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि धिक्कार है कमलनाथ जी पर कि इतनी घटिया स्तर की राजनीति कर रहे हैं मुझे आश्चर्य होता है वे मुख्यमंत्री रहे हैं मैं मुख्यमंत्री हूँ पूर्व मुख्यमंत्री भी रहा लेकिन हमने कभी अपमान नहीं किया। मन आत्म ग्लानि से भर गया है कि मुख्यमंत्री पद पर रहने वाला व्यक्ति एक बहन के लिए ऐसी घटिया शब्दों का इस्तेमाल करेगा । मुझे पता नहीं कि वे प्रायश्चित करेंगे कि नहीं लेकिन मैं करूँगा। मैं भोपाल में गांधी जी की प्रतिमा के नीचे दो घंटे मौन व्रत रखूँगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सोमवार सुबह 10:00 बजे से 12:00 बजे तक मौन व्रत करेंगे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here