वीसी में शिवराज सिंह चौहान की अधिकारियों को चेतावनी- मैं औचक निरीक्षण करूंगा

सीएम शिवराज सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कलेक्टर-कमिश्नर, IG और SP के साथ चल रही वीडियो कॉन्फ्रेंस (Collector-Commissioner Video Conference) में  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि मैं औचक निरीक्षण करूंगा। कुछ जगह अभी जनदर्शन में मैंने खामियां देखी हैं।पीएम आवास योजना में मुझे पता चला कि अधिकारियों ने लोगों से पैसे ले लिए। मैं ऐसे लोगों को छोडूंगा नहीं। अभी निलंबित कर जांच बैठा दी है। अब जनभागीदारी से चलेगी सरकार।

आगामी चुनावों से पहले शिवराज सरकार ने खेला बड़ा मास्टर स्ट्रोक, क्या मिलेगा फायदा?

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि कोविड और वैक्सीनेशन में जनभागीदारी ने महती भूमिका निभाई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसकी सराहना की है। अब इसे मैं सरकार की कार्यप्रणाली का अंग बनाना चाहता हूं जनता को जोड़कर काम करो तो गति बढ़ जाती है।आप नोट कर लीजिए- पात्र हितग्राही लाभ से वंचित नहीं होना चाहिए। आप सब पर्सनली देखें।1 से 15 नवम्बर को रेवेन्यू को लेकर राजस्व अभिलेखों का शुद्धिकरण का कार्यक्रम हम करेंगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि करप्शन के मामले में जीरो टॉलरेंस की हमारी नीति है। भ्रष्टाचार करने वालों को हम किसी कीमत पर नहीं छोड़ेंगे। हमें डेंगू पर भी नियंत्रण पाना है।बड़े कार्यों की मॉनिटरिंग की ड्यूटी कलेक्टर की है। अटल प्रगतिपथ के निर्माण के लिए तेज़ी से सभी आवश्यक व्यवस्थाएँ कर लें।अनूपपुर और शहडोल ज़िले के पुलिस विभाग की मैं प्रशंसा करता हूँ जिन्होंने अपने कर्तव्यों का पालन पूरी निष्ठा के साथ किया है।

यह भी पढ़े.. Good News : कर्मचारियों की जल्द बढ़ सकती है 300 प्रतिशत पेंशन, ऐसे समझे पूरा गणित

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सभी सावधानियों का पालन करें। पानी को कहीं रुकने न दें और स्वच्छता रखें, ऐसी जागरुकता हमें फैलानी है।27 सितंबर को पहले डोज़ का 100% वैक्सीनेशन का लक्ष्य हमें पूर्ण करना है। दिसंबर माह तक हमें दोनों डोज़ का 100% वैक्सीनेशन पूर्ण करना है। जो बच गए हों, उनकी सूची बना लें और उनको टीका लगवाएँ।जनजातीय भाई-बहनों के लिए राशन आपके द्वार, पेसा कानून के अंतर्गत वनों का प्रबंधन और अनेक हितकारी योजनाएं हैं, इनका क्रियान्वयन ठीक से होना चाहिये। गरीब का हक नहीं मारा जाना चाहिये, यह हमें सुनिश्चित करना होगा

बता दे कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान साल में दो बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कलेक्टर-कमिश्नर और IG-SP कॉन्फ्रेंस करके योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा करने का निर्णय लिया है। इसी के चलते आज सोमवार 20 सितंबर 2021 को करीब 5 महिने बाद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग रखी गई है।इसमें सरकारी योजनाओं, पीएम आवास योजना, माफिया, कानून व्यवस्था, कोरोना और तमाम बड़े मुद्दों पर कलेक्टरों और कमिश्नरों से चर्चा की जा रही है।