‘आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश’ की तरफ Shivraj के कदम, सख्त निर्देश- जल्दी तैयार हो रोडमैप

भोपाल।

15 महीने की कमलनाथ सरकार(Kamal Nath Government) को सत्ता से उखाड़ फेंकने के बाद और मध्य प्रदेश में बीजेपी के सत्ता पर काबिज होने के साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) के आत्मनिर्भर भारत के मंत्र को साकार करने की कोशिश में जुट गए हैं। जिसके लिए अब सीएम शिवराज सिंह चौहान ने साफ निर्देश देते हुए कहा है कि आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश का रोड मैप(Road Map of Self-reliant Madhya Pradesh) जल्द से जल्द तैयार किया जाए। इसके साथ ही लोकल को वोकल(Local to Vocal)  बनाने की तर्ज पर प्रत्येक जिले में उसकी विशिष्टता की पहचान की जा रही है। जिसे विकसित कर उस जिले में लघु कुटीर उद्योग की स्थापना की जा सके।

मध्यप्रदेश में जहां एक तरफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान नए नवीनीकरण की तरफ युवाओं का ध्यान खींचने की कोशिश में लगे हैं वहीं दूसरी तरफ आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश योजना पर जल्द से जल्द वह एक प्रस्तुतीकरण चाहते हैं। जिसको लेकर सीएम शिवराज प्रतिदिन विशेष बैठक कर रहे हैं। आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश की कार्य योजना के लिए प्रदेश के विभिन्न जिलों से जहां सुझाव मांगे जा रहे हैं वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि स्थानीय स्तर पर उपलब्ध कच्चे संसाधनों का उपयोग कर प्रदेश में लघु एवं कुटीर उद्योग को बढ़ावा दिया जा सकता है। इसके साथ ही आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश योजना के तहत निजी भूमि पर वृक्ष लगाकर वनीकरण को भी बढ़ावा देने की योजना है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की “वन नेशन वन मार्केट” की योजना को सफल करने के लिए भी कार्य किया जा रहा है। जिसके माध्यम से प्रदेश के किसानों को उनकी फसल का अधिक से अधिक मूल्य उपलब्ध कराने की कोशिश की जाएगी। वही प्रदेश के विभिन्न जिलों के विभिन्न ग्रामों में शिक्षा के गुणवत्ता को दुरुस्त किया जाएगा। आयुष्मान भारत योजना को प्रभावी ढंग से मध्य प्रदेश में लागू करने के साथ ही इलाज के लिए कैशलेस व्यवस्था की शुरुआत की जाएगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्य प्रदेश के पास कच्चे मालों की खान है। जिसका उपयोग मध्य प्रदेश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के लिए करेगा। लेकिन इससे पहले हम आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश की तरफ बढ़ेंगे जिसके लिए जल्द से जल्द रोड मैप को तैयार करने के निर्देश दे दिए गए है।

बता दें कि प्रदेश में कोरोना के संक्रमण को देखते हुए कार्यों में उस तरह की तेजी नहीं है। बावजूद इसके प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत की तर्ज पर ही आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए लगातार कोशिश करते नजर आ रहे हैं। एक तरफ जहां प्रस्तुतीकरण के लिए रोडमैप तैयार किए जा रहे हैं। वहीं यह भी माना जा रहा है कि आगामी 15 अगस्त को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश योजना को लेकर कुछ बड़ी घोषणा कर सकते हैं।